राजस्थान: रिवाल्वर लहराकर बैंक लूट ले गए लुटेरे, CCTV में कैद

लुटेरों ने घुसते ही सबसे पहले इन्होंने बाहर से बैंक के दरवाजे बंद कर दिए और कर्मचारियों से मारपीट शुरू कर दी. कर्मचारी और ग्राहक इतने डर गए कि वह एक कोने में जाकर खड़े हो गए जिसके बाद लुटेरे बैंक में रखे सभी एक लाख 38 हजार लेकर भाग गए.

सीसीटीवी में कैद हुई लूट की वारदात
शरत कुमार
  • जयपुर,
  • 08 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:37 PM IST

राजस्थान अपराधियों के हौसले बुलंद हैं. जयपुर और बहरोड की घटना के बाद अब सीकर में बैंक लुटेरों ने दिनदहाड़े बैंक में घुसकर रिवाल्वर के दम पर बैंक लूट लिया. जिले के दादिया थाने के कुदन गांव में ग्रामीण बैंक ऑफ बड़ौदा बैंक में शनिवार को अचानक 4 लोग हाथों में रिवाल्वर लहराते हुए घुसे और 1 लाख 38 हजार रुपए लेकर भाग गए.

जानकारी के मुताबिक लुटेरों ने बैंक में घुसते ही सबसे पहले दरवाजे बंद कर दिए और कर्मचारियों से मारपीट शुरू कर दी. कर्मचारी और ग्राहक इतने डर गए कि वह एक कोने में जाकर खड़े हो गए. बैंक में आए ग्राहकों को भी लुटेरों ने नहीं छोड़ा  और उनकी पिटाई की.

बताया जा रहा है कि बैंक लुटेरों ने जब लॉकर की चाबी मांगी तो कैशियर ने देने से मना किया, फिर पिटाई के बाद उसने चाबी सौंप दी. लुटेरे बैंक में रखे सभी 1 लाख 38 हजार लेकर भाग गए. भागने से पहले उन्होंने बैंक में मौजूद सभी कर्मचारियों और ग्राहकों को बैंक के कमरे में बंद कर दिया. लूट की वारदात वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है.

लुटरों के फरार होने के बाद बैंक के अंदर से लोग जोर-जोर से चिल्लाए तब राहगीरों ने उनकी आवाज सुनकर बैंक का दरवाजा खोला. बैंक लूट की वारदात की खबर मिलते ही सीकर जिले के सारे पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे. पूरे इलाके में नाकेबंदी शुरू कर दी गई. सीसीटीवी के आधार पर अपराधियों की पहचान की कोशिश की जा रही है.

पुलिस को शक है कि लुटेरे हरियाणा बॉर्डर से आए होंगे. मगर यह पुलिस की बड़ी लापरवाही मानी जा रही है क्योंकि राजस्थान में बहरोड और जयपुर की घटना के बाद सीकर जिले में कड़ी नाकेबंदी थी और इसके बावजूद अपराधी इस तरह से वारदात को अंजाम देकर भाग गए.

Read more!

RECOMMENDED