NCRB का खुलासा: देश भर में हत्या और साइबर क्राइम के मामलों में अव्वल है यूपी

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) के मुताबिक आपराधिक घटनाओं के मामले में पहले नंबर पर यूपी (9.5%), दूसरे नंबर पर मध्य प्रदेश (8.9%), तीसरे पर महाराष्ट्र (8.8%) और चौथे पर केरल (8.7%) हैं.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जारी किए NCRB के आंकड़े
मुकेश कुमार/खुशदीप सहगल/जितेंद्र बहादुर सिंह
  • नई दिल्ली,
  • 30 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 6:00 PM IST

आपराधिक घटनाओं के मामले में यूपी देश भर में अव्वल है. देश भर में कुल मिलाकर जितनी भी आपराधिक घटनाएं होती हैं, उनमें से 9.5% अकेले यूपी में होती हैं. राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) के आंकड़ों के मुताबिक आपराधिक घटनाओं के मामले में दूसरे नंबर पर मध्य प्रदेश (8.9%), तीसरे पर महाराष्ट्र (8.8%) और चौथे पर केरल (8.7%) है.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ने आईपीसी अपराधों के तहत अपराध दर के मामले में 974.9 के साथ सबको पीछे छोड़ दिया. अपराध दर के मामले में केरल (727.6) दूसरे नंबर पर और मध्य प्रदेश (337.9) तीसरे नंबर पर है. अपराध दर का राष्ट्रीय औसत 233.6 है. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने NCRB की वार्षिक रिपोर्ट आज गुरुवार को जारी की है.

साल 2016 की इस रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि बीते तीन साल में हत्याओं के मामले में पहली बार गिरावट आई है. 2016 में पिछले वर्ष की तुलना में 5.2% की गिरावट के साथ 30,359 हत्या के मामले दर्ज हुए. 2015 में हत्या के 32127 मामले दर्ज हुए थे. 2016 में यूपी में सबसे ज्यादा 4879 मामले दर्ज हुए. दूसरे पर बिहार रहा, जहां 2581 हत्या के मामले दर्ज हुए.    

NCRB रिपोर्ट के मुताबिक, 2016 में पिछले वर्ष की तुलना में 6% की बढोतरी के साथ 88,008 अपहरण के मामले दर्ज हुए. देश मे दंगों की संख्या में 2015 की तुलना में 2016 में 5%  की कमी आई. 2016 में दंगों के 61974 मामले दर्ज हुए थे. 2015 में 65255 ऐसे मामले दर्ज हुए थे. महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों में 2016 में 2.9% की बढ़ोतरी हुई.

रेप के मामलों में मध्य प्रदेश अव्वल

बलात्कार के मामले 2015 की तुलना में 2016 में 12.4% बढ़े हैं. 2016 में 38,947 बलात्कार के मामले देश मे दर्ज हुए. इनमें सबसे ज्यादा 4,882 मध्य प्रदेश में हुए. दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश रहा, जहां 4,816 बलात्कार के मामले दर्ज हुए. महाराष्ट्र तीसरे नंबर पर रहा, जहां 4,189 बलात्कार के मामले दर्ज हुए हैं.

साइबर क्राइम में भी यूपी रहा अव्वल

देश में साइबर क्राइम 2015 की तुलना में 2016 में 6% बढ़े. साइबर क्राइम में भी यूपी का नंबर पहला रहा है. जहां तक नकली नोटों की बात है तो 2016 में 15 करोड़, 92 लाख, 50 हजार 181 मूल्य के नकली नोट पकड़े गए. सबसे ज्यादा नकली नोट (5 करोड़, 65 लाख) दिल्ली से बरामद हुए. गुजरात में 2 करोड़, 37 लाख के नकली नोट मिले. 

महानगरों में दिल्ली रहा सबसे आगे

देश के सभी महानगरों में अपराधों के मामले में दिल्ली अव्वल रहा है. महानगरों में कुल अपराधों में अकेले दिल्ली में 38.8% अपराध दर्ज हुए. दूसरे नंबर पर बेंगलुरू (8.9%) और तीसरे पर मुंबई (7.7%) रहा. महानगरों में बलात्कार के कुल मामलों में अकेले दिल्ली में 40 फीसदी हुए. मुंबई में बलात्कार के 12 फीसदी मामले दर्ज हुए.

यहां से सबसे अधिक लापता हुए बच्चे

अपहरण के मामलों में भी राजधानी दिल्ली ने दूसरे महानगरों को पीछे छोड़ा. महानगरों में कुल अपहरण के मामलों में अकेले दिल्ली में 48.3 मामले दर्ज हुए. बच्चों के लापता होने के मामलों में सबसे अधिक महाराष्ट्र और दूसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल में दर्ज हुए.

Read more!

RECOMMENDED