UP में लड़की को अगवा करने की कोशिश, विरोध पर ईंट से कुचल कर हत्या

यूपी के बांदा के बिसंड़ा थाना क्षेत्र के अलिहा गांव में बदमाशों ने एक नाबालिग दलित लड़की की हत्या कर दी. कुछ बदमाश एक शख्स के घर में घुसकर उनकी छोटी बेटी के अपहरण की कोशिश कर रहे थे. इसी बीच लड़की ने इसका विरोध किया, तो ईंट से कुचल कर उसकी हत्या कर दी. पुलिस केस दर्ज करके जांच कर रही है.

यूपी के बांदा में हुई सनसनीखेज वारदात
मुकेश कुमार
  • लखनऊ,
  • 30 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 5:18 PM IST

यूपी के बांदा के बिसंड़ा थाना क्षेत्र के अलिहा गांव में बदमाशों ने एक नाबालिग दलित लड़की की हत्या कर दी. कुछ बदमाश एक शख्स के घर में घुसकर उनकी छोटी बेटी के अपहरण की कोशिश कर रहे थे. इसी बीच लड़की ने इसका विरोध किया, तो ईंट से कुचल कर उसकी हत्या कर दी. पुलिस केस दर्ज करके जांच कर रही है.

क्षेत्राधिकारी ओम प्रकाश ने बताया कि बिसंड़ा थाना क्षेत्र के अलिहा गांव में तड़के दीवार फांद कर कुछ बदमाश गरीबदास रैदास के घर घुस गए. उन्होंने घर में सो रही रैदास की सबसे छोटी बेटी का अपहरण करने का प्रयास किया. इसका विरोध करने पर बदमाशों ने 10वीं कक्षा की छात्रा नीताश्री 16 की ईंट से कुचल कर हत्या कर दी.

पीड़ित पक्ष ने बताया कि बदमाशों ने लड़की के पिता और भाई को भी पीट-पीट कर घायल कर दिया और वहां से फरार हो गए. बदमाश इससे पहले मृतका की दिव्यांग बड़ी बहन को भी अगवा कर ले गए थे. पुलिस अभी भी उसकी खोजबीन कर रही है. पुलिस ने बताया कि मृतका के पिता ने अपने पड़ोसियों के खिलाफ तहरीर दी है.

गरीबदास का आरोप है कि पड़ोसियों ने रंजिश में इस घटना को अंजाम दिया है. क्षेत्राधिकारी ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने के बाद एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है. विरोध करने के दौरान इसी व्यक्ति की जैकेट पीड़ित परिवार ने छीन ली थी, जिसके आधार पर उसकी पहचान हो सकी है.

उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रहे और बांदा के नरैनी सीट से बसपा के पूर्व विधायक गयाचरन दिनकर ने गुरुवार को आरोप लगाया कि प्रदेश में योगी सरकार के गठन के बाद से ही अनुसूचित वर्ग की एक विशेष कौम को चिन्हित कर अपराधी हमला कर रहे हैं. पुलिस तत्परता दिखाती तो ऐसा जघन्य अपराध नहीं होता.

Read more!

RECOMMENDED