मुंबई: गहनों के लिए बुज़ुर्ग महिला की हत्या, क्राइम शो देखकर दंपति ने रची साजिश

क्राइम शो देख कर एक दंपति ने जल्द अमीर बनने के लिए अपराध का रास्ता अपनाया और पड़ोस में रहने वाली 70 वर्षीय महिला की हत्या कर दी. हत्या के बाद महिला के सारे सोने के जेवरात उतार कर शव को तालाब के पास फेंक दिया. पुलिस ने दंपति को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने दोनों को पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

प्रतीकात्मक तस्वीर
सौरभ वक्तान‍िया
  • मुंबई,
  • 10 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 10:46 PM IST

  • महाराष्ट्र के भिवंडी में मिला था महिला का शव
  • पड़ोसी दंपति ने स्वीकारा अपराध, गए जेल

क्राइम शो देखकर एक दंपति ने जल्द अमीर बनने के लिए अपराध का रास्ता अपनाया और पड़ोस में रहने वाली 70 वर्षीय महिला की हत्या कर दी. हत्या के बाद महिला के सारे सोने के जेवरात उतार कर शव को तालाब के पास फेंक दिया. पुलिस ने दंपति को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने दोनों को पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

घटना 22 नवंबर को भिवंडी जिले के वादुनवघर इलाके की है. एक छोटे तालाब के पास से बुजुर्ग महिला का शव मिला था. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक महिला की मौत सर पर किसी भारी वस्तु के प्रहार की वजह से हुई. बाद में महिला की पहचान 70 वर्षीय सोनूबाई चौधरी के तौर पर हुई. पुलिस के पास शुरू में कोई सुराग नहीं था. फिर पुलिस ने सोनूबाई के घर और जहां से शव मिला वहां आसपास लगे सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला. यहां से भी पुलिस को कोई खास मदद नहीं मिली. 

जिस महिला की हुई हत्या, उसकी तस्वीर दिखाता पुलिसकर्मी

पुलिस को तकनीकी जांच से कुछ लीड मिली. इसके बाद पुलिस ने सोनूबाई के घर के पड़ोस में रहने वाले पति-पत्नी सोमनाथ वाकड़े और नीलम वाकड़े पर फोकस किया. सोमनाथ और नीलम से पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने अपराध कबूल कर लिया. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सोमनाथ सरकारी कर्मचारी है और ड्राइवर के तौर पर कार्यरत है, वहीं नीलम आंगनबाड़ी में काम करती है.

सोमनाथ और नीलम को कार, दुपहिया वाहन, आई फोन और एयर कंडीशनर के लिए ईएमआई भरनी पड़ती थी. ईएमआई और अन्य खर्चों को पूरा करने के लिए सोमनाथ और नीलम का वेतन पूरा नहीं पड़ता था. सोमनाथ और नीलम को पता था कि सोनूबाई को मोटी पेंशन मिलती है और इसी से सोनूबाई ने सोने के काफी जेवरात खरीद रखे हैं. 21 नवंबर को दोपहर के खाने के बाद दंपति ने सोनूबाई से बातचीत का बहाना बनाया.

ऐसे की बुजुर्ग की हत्या

घर के अंदर नीलम ने कपड़े धोने के डंडे से सोनूबाई के सिर पर प्रहार किया, जिससे सोनूबाई की मौत हो गई. इसके बाद सोमनाथ और नीलम ने सोनूबाई के सारे जेवरात उतार कर शव को वादुनवघर में छोटे तालाब के पास फेंक दिया. आरोपी दंपति ने पुलिस को बताया कि उन्होंने टीवी पर दो क्राइम शो सीरियल देखने के बाद इससे प्रेरित होकर सोनूबाई की हत्या करने का फैसला किया.

Read more!

RECOMMENDED