MP: किशोरी से गैंगरेप के 5 आरोपी गिरफ्तार, सगे भाइयों ने बेचा था

मुरैन के कैलारस में सूरापुर गांव की रहने वाली पीड़िता किशोरी को उसके सगे भाइयों विष्णू और पप्पू ने 13 जुलाई, 2016 को 2 लाख रुपये लेकर हिंगौना मन बसेड़ी के रहने वाले प्रकाश गोस्वामी को बेच दिया था.

सांकेतिक तस्वीर
आशुतोष कुमार मौर्य
  • भोपाल,
  • 25 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 3:53 PM IST

मध्य प्रदेश के मुरैना में रिश्ते को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. दो सगे भाइयों ने महज 2 लाख रुपयों की खातिर अपनी  बहन को ही बेच दिया. खरीदने वाले बदमाशों ने किशोरी को कई महीने बंधक बनाकर रखा और सामूहिक दुष्कर्म किया. किसी तरह उनके चंगुल से छूटी किशोरी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और एक साल बाद पुलिस फरार चल रहे पांचों आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफल रही.

मुरैन के कैलारस में सूरापुर गांव की रहने वाली पीड़िता को उसके सगे भाइयों विष्णु और पप्पू ने 13 जुलाई, 2016 को 2 लाख रुपये लेकर हिंगौना मन बसेड़ी के रहने वाले प्रकाश गोस्वामी को बेच दिया था. पुलिस ने प्रकाश गोस्वामी सहित किशोरी के साथ गैंगरेप करने वाले पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

15 वर्षीय पीड़िता को खरीदकर आरोपी अपने गांव हिंगौना मन ले गए थे, जहां से भागकर पीड़िता सितंबर 2016 में वापस अपने घर आई और पुलिस में अपने दोनों भाइयों सहित सात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करवाया. पुलिस ने सितंबर 2016 में ही एक आरोपी पप्पू गोस्वामी को गिरफ्तार कर लिया था और शेष आरोपियों की तलाश कर रही थी.

समाचार पत्र दैनिक भास्कर ने अपनी रिपोर्ट में एसडीओपी सुधीर कुशवाहा के हवाले से बताया है कि पुलिस ने फरार चल रहे आरोपियों पर 2-2 हजार रुपये का इनाम भी रख रखा था. कैलारस थाना प्रभारी अमित शर्मा के नेतृत्व में गठित टीम ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार किया. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों की पहचान रामू गोस्वामी, पूरन गोस्वामी, बृजेश गोस्वामी, नेतराम गोस्वामी और दिनेश गोस्वामी के रूप में की है.

Read more!

RECOMMENDED