कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप

पुलिस ने इस मामले में चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है. कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने ये कार्रवाई की है. बता दें कि पुलिस की अबतक की जांच में ये बात सामने आई है कि पुलिस से ही जुड़े कुछ अफसरों ने अपराधी विकास दुबे को पुलिस रेड की पूर्व सूचना दे दी थी.

विकास दुबे के घर को पुलिस ने गिरा दिया है (फोटो-आजतक)
नीलांशु शुक्ला
  • कानपुर,
  • 04 जुलाई 2020,
  • अपडेटेड 5:36 PM IST

  • चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी सस्पेंड
  • गैंगस्टर विकास दुबे से नजदीकी का आरोप

कानपुर गोलीकांड मामले में कानपुर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने इस मामले में चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है. कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने ये कार्रवाई की है. बता दें कि पुलिस की अबतक की जांच में ये बात सामने आई है कि पुलिस से ही जुड़े कुछ अफसरों ने अपराधी विकास दुबे को पुलिस रेड की पूर्व सूचना दे दी थी.

चौबेपुर के थानाध्यक्ष सस्पेंड

पुलिस की जांच में चौबेपुर के थानाध्यक्ष और कुछ दूसरे सिपाहियों का नाम आया था. विनय तिवारी चौबेपुर के थानाध्यक्ष हैं. इस जानकारी के आधार पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है.

पढ़ें- कानपुर मुठभेड़ के बाद विकास दुबे पर एक्शन, JCB से गिराया गया घर

विनय तिवारी के खिलाफ FIR दर्ज करने की तैयारी

पुलिस को शक है कि विनय तिवारी ने ही गैंगस्टर विकास दुबे को उसके घर में रेड की सूचना दी है. सूत्रों के मुताबिक विनय तिवारी से एसटीएफ ने पिछले शाम को पूछताछ की थी. जांच में पता चला है कि विनय तिवारी ने कुछ दिनों पहले विकास दुबे के खिलाफ शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया था.पुलिस अब विनय तिवारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की तैयारी कर रही है.विनय तिवार के खिलाफ FIR दर्ज की जा सकती है.

पढ़ें- कानपुर मुठभेड़ः शहीद सिपाही की हथेली पर लिखा मिला वाहन नंबर, हो रही जांच

मामले पर विनय तिवारी की चुप्पी

आजतक ने इस मामले में चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी से बात करने की कोशिश की. लेकिन विनय तिवारी कुछ भी बोलने से इनकार करते रहे. विनय तिवारी ने कहा कि पूरे मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारी द्वारा दी जाएगी. आजतक ने विनय तिवारी से कहा कि पुलिस पर गंभीर आरोप लग रहे हैं, लेकिन जवाब देने के बजाय विनय तिवारी चुप्पी साधकर आगे बढ़ गए.

Read more!

RECOMMENDED