फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर आरोपी ने कमलेश तिवारी से की थी दोस्ती

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में नया खुलासा हुआ है. एटीएस सूत्रों के मुताबिक, हत्या के आरोपी अशफाक ने साजिश के तहत रोहित सोलंकी नाम से एक फेसबुक प्रोफाइल बनाई थी और इसी के जरिए उसने कमलेश तिवारी से फेसबुक पर दोस्ती बढ़ाई थी.

आरोपी अशफाक
अरविंद ओझा
  • नई दिल्ली,
  • 20 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 7:36 PM IST

  • हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की गला रेतकर हुई थी हत्या
  • होटल से मिले कई सबूत, हत्यारोपियों के कपड़े और बैग बरामद

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में नया खुलासा हुआ है. स्पेशल टास्क फोर्स (एटीएस) सूत्रों के मुताबिक, हत्या के आरोपी अशफाक ने साजिश के तहत रोहित सोलंकी नाम से एक फेसबुक प्रोफाइल बनाई थी और इसी के जरिए उसने कमलेश तिवारी से फेसबुक पर दोस्ती बढ़ाई थी.

फेक फेसबुक आईडी के जरिए नजदीकी बनाकर कमलेश तिवारी से फोन पर बातचीत की और संगठन से जुड़ने की इच्छा जताई. जिसके बाद मिलने के लिए मीटिंग फिक्स की गई थी.

कमलेश तिवारी से मिलने से पहले हत्यारों ने की थी फोन पर बात

कमलेश तिवारी हत्याकांड के बाद उनके नौकर स्वराष्ट्रजीत सिंह ने मीडिया से बातचीत में बताया था कि हमलावरों ने आने से पहले 10 मिनट तक तिवारी जी से फोन पर बात की थी. उसके बाद दफ्तर पहुंचकर कमलेश तिवारी से उन्होंने करीब आधे घंटे बात की थी. सिगरेट लाने के बहातने नौकर को बाहर भेजकर हमलावरों ने वारदात को अंजाम दिया था.

मिठाई के डिब्बे में लाए थे चाकू

भगवा कपड़े पहने हमलावर मिठाई के डिब्बे में चाकू, कट्टा लेकर आए खुर्शीद बाग इलाके में स्थित तिवारी के दफ्तर में घुसे थे. सीसीटीवी कैमरे में कैद वारदात के मुताबिक हमलावरों ने कमलेश तिवारी की ठोड़ी और सीने में चाकू से 15 से ज्यादा वार किए और वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से फरार हो गए थे.

ATS को मिले सबूत, होटल से बैग और भगवा कुर्ता बरामद

कमलेश तिवारी हत्याकांड में एटीएस के हाथ एक बड़ा सबूत हाथ लगा है. लखनऊ स्थित होटल खालसा से कुछ सामान बरामद हुए हैं, जिनमें एक बैग और खून से सना भगवा कुर्ता बरामद हुआ है. फिलहाल, पुलिस के साथ फरेंसिक टीम मामले की जांच कर रही है. वहीं होटल के मालिक से भी मामले की पूछताछ की जा रही है.

Read more!

RECOMMENDED