मध्य प्रदेश: मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या, शरीर पर दांत के निशान

मध्य प्रदेश के देवास जिले में 10 वर्षीय एक बच्ची के साथ रेप के बाद हत्या की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. पीड़ित बच्ची का शव एक खेत पर पड़ा मिला. उसके मुंह पर कपडा ठूंसा हुआ था और पैर बंधे हुए थे. पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

मध्य प्रदेश के देवास जिले में हुई वारदात
मुकेश कुमार
  • भोपाल,
  • 06 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 7:08 PM IST

मध्य प्रदेश के देवास जिले में 10 वर्षीय एक बच्ची के साथ रेप के बाद हत्या की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. पीड़ित बच्ची का शव एक खेत पर पड़ा मिला. उसके मुंह पर कपडा ठूंसा हुआ था और पैर बंधे हुए थे. पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

थाना प्रभारी सीएल कटारे ने बताया कि यह वारदात देवास जिला मुख्यालय से करीब 90 किलोमीटर दूर हुई. बच्ची शुक्रवार को खेत पर अपने पिता को चाय देने के लिए निकली थी. वह अपने पिता के पास पहुंच ही नहीं सकी. रास्ते में ही गुम हो गई. रविवार सुबह ग्रामीणों को उसकी लाश मिली. इसके बाद पुलिस को सूचित किया.

उन्होंने बताया कि बच्ची के शव की जांच करने के बाद चिकित्सकों और फॉरेंसिक साइंस प्रयोगशाला ने रिपोर्ट दी कि उसकी रेप के बाद दम घुटने से मौत हुई है. उसके शरीर में कई जगहों पर दांत से काटने के निशान पाए गए हैं. एक ही व्यक्ति के दांतों के निशान उसके शरीर पर हैं. ऐसी आशंका है कि एक ही व्यक्ति ने रेप किया है.

आरोपी का अब तक पता नहीं चल पाया है. पीड़िता के पिता की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 बलात्कार और 302 हत्या के साथ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. पुलिस बच्ची के शव का पोस्टमार्टम कराकर उसके परिजनों को सौंप दी. इस मामले की जांच के साथ आरोपियों की तलाश हो रही है.

बताते चलें कि मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक नवंबर की रात एक पुलिसकर्मी दंपति की बेटी के साथ गैंगरेप हुआ था. इस मामले में तीन थाना प्रभारी एमपी नगर थाने के प्रभारी संजय सिंह बैस, हबीबगंज थाने के प्रभारी रविंद्र यादव, जीआरपी हबीबगंज के थाना प्रभारी मोहित सक्सेना, दो उप निरीक्षक टेकराम और उइके को निलंबित किया जा चुका है.

इस केस गैंगरेप पीड़िता ने आरोपियों को चौराहे पर फांसी की सजा देने की मांग की है. उसका कहना है कि पुलिस का रवैया ठीक नहीं है. राजधानी के हबीबगंज क्षेत्र में पीड़िता एक नवंबर की रात को कोचिंग से लौट रही थी, तभी उसके साथ चार युवकों ने गैंगरेप किया. पीड़िता थाने गई, तो उसे दूसरे थाने भगाया गया. हालांकि, सरकार ने कार्रवाई शुरू कर दी है.

Read more!

RECOMMENDED