गुरुग्राम: मंजीत मर्डर केस की गुत्थी सुलझी, धंधे पर धाक जमाने के लिए हुई हत्या

पुलिस की गिरफ्त में आया धीरज उर्फ धीरू पेशे से जिम संचालक और न्यूजपेपर्स वेंडर है. धीरू ने मंजीत का कत्ल सिर्फ इसलिए करवाया क्योंकि वह मंजीत यादव के बिजनेस को हथिया कर एकछत्र राज करना चाहता था. पुलिस की मानें तो हत्यारोपी धीरज यादव गैंगस्टर अशोक राठी की हत्या के बाद गिरोह का सरगना बन पूरे इलाके में दहशत फैलाने की फिराक में था.

इस हत्याकांड में तीन शूटर्स को गिरफ्तार किया गया है (सांकेतिक तस्वीर)
तनसीम हैदर
  • गुरुग्राम,
  • 15 मई 2020,
  • अपडेटेड 7:31 AM IST

  • प्रोफेशनल तरीके से की गई हत्या
  • कई गोली मारकर मौके से फरार

गुरुग्राम में मंजीत की हत्या से पहले की साजिश का खुलासा हो गया है. हत्या को अंजाम देने वाले शूटर्स सुबह 4 बजे ही वारदात स्थल पर पहुंच चुके थे. ये शूटर्स हत्या से पहले तक घटना के मास्टरमाइंड को पल-पल की जानकारी दे रहे थे.

मंजीत यादव की हत्या को कैसे अंजाम दिया जाए इसके लिए धीरज उर्फ धीरू ने पूरी साजिश रची. पुलिस की मानें तो तीन शूटर्स 6 असलहों के साथ सुबह 7 बजे ही नौरंगपुर के पार्क में पहुंच गए थे. वहां से वे पल पल की खबर मास्टरमाइंड धीरू को दे रहे थे. जैसे ही मंजीत अपने बच्चों के साथ पार्क में पहुंचा, वैसे ही तीनों शूटर्स ने फोन पर मंजीत के आने की सूचना धीरू को दी. धीरू का इशारा मिलते ही एक के बाद एक डेढ़ दर्जन गोलियों की बौछार कर मंजीत को मौत के घाट उतार दिया गया. तीनों शूटर्स इतने प्रोफेशनल तरीके से वारदात को अंजाम दे रहे थे, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि तीन पिस्टल की गोली खाली करने के बाद इनमे से एक गाड़ी में से पिस्टल निकाल कर लाया और जमीन पर गिरे मंजीत के सर में गोलियां मार कर मौके से फरार हो गए.

पुलिस की गिरफ्त में आया धीरज उर्फ धीरू पेशे से जिम संचालक और न्यूजपेपर्स वेंडर है. धीरू ने मंजीत का कत्ल सिर्फ इसलिए करवाया क्योंकि वह मंजीत यादव के बिजनेस को हथिया कर एकछत्र राज करना चाहता था. पुलिस की मानें तो हत्यारोपी धीरज यादव गैंगस्टर अशोक राठी की हत्या के बाद गिरोह का सरगना बन पूरे इलाके में दहशत फैलाने की फिराक में था. इसके लिए मंजीत यादव के धंधों में सेंध लगा कर वह अकेला राज करना चाहता था पुलिस की मानें तो वारदात में शामिल शूटर्स को गिरफ्तार कर पूरे मामले का खुलासा कर दिया. घटना में मनीष, सोमबीर और दीपक को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस के मुताबिक, धीरज यादव इससे पहले भी बसई के संदीप शूटर की हत्या और गैंगस्टर अशोक राठी के कहने पर उसके ड्राइवर इलियास की हत्या की वारदात को अंजाम दे चुका है. बहरहाल पुलिस ने आरोपियों को जिला अदालत में पेश कर इन्हें 2 दिन के पुलिस रिमांड पर ले लिया है.

Read more!

RECOMMENDED