किन्नरों की गुंडागर्दी, नहीं दिया मनचाहा नेग तो नवजात के पिता को मार डाला

गुजरात के सूरत में किन्नरों की गुंडागर्दी का एक ऐसा मामला सामने आया है जहां बच्चे के जन्म लेने पर किन्नरों को मनचाहा नेग नहीं मिला तो उन्होंने नवजात बच्चे के पिता को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया. जिसके बाद नवजात बच्चे के पिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन दो दिन जिंदगी और मौत के बीच जूझकर सोमवार को दम तोड़ दिया.

किन्नरों ने शख्स को मार डाला (फाइल फोटो)
गोपी घांघर
  • अहमदाबाद,
  • 09 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 2:52 PM IST

  • मनचाहा नेग ना मिलने पर गुंडागर्दी पर उतरे
  • किन्नरों ने की थी 21 हजार रुपये की मांग

किसी के घर बच्चा जन्म लेता है या शादी जैसा कोई शुभ अवसर होता है तो किन्नर अपना नेग लेने पहुंच जाते हैं. वहीं कई बार ऐसा मामला भी सामने आता है कि जब उन्हें मन मुताबिक पैसे या नेग नहीं मिलता तो किन्नर गुंडागर्दी पर भी उतारू हो जाते हैं.

गुजरात के सूरत से किन्नरों की गुंडागर्दी का एक ऐसा मामला सामने आया है जहां बच्चे के जन्म लेने पर किन्नरों को मनचाहा नेग नहीं मिला तो उन्होंने नवजात बच्चे के पिता को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया. जिसके बाद नवजात बच्चे के पिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन दो दिन जिंदगी और मौत के बीच जूझकर सोमवार को दम तोड़ दिया.

दरअसल, सूरत के रहने वाले गहरीलाल खटिक के घर दो बेटियां हैं, हाल ही में उनके घर बेटे का जन्म हुआ. परिवार में बेटे के जन्म की खुशी को अभी चंद दिन ही बीते थे कि किन्नरों ने उसे गम में तब्दील कर दिया. सूरत शहर के गोड़ादरा इलाके में स्थित मानसरोवर सोसाइटी में किराए के घर में रह रहे गहरीलाल खटिक के घर में बेटे के जन्म की खुशीमें तीन किन्नर नेग लेने पहुंचे थे.

किन्नरों ने गहरीलाल खटिक से 11 हजार रुपये की डिमांड की थी लेकिन मजदूरी कर अपने परिवार का भरण-पोषण करने वाले गहरीलाल के घर में 11 हजार रुपये देने के लिए नहीं थे तो उन्होंने किन्नरों को 2100 रुपये देने की बात कही थी. इस बात पर किन्नर भड़क गए और उन्होंने उत्पात मचाना शुरू कर दिया.

किन्नरों ने बेशर्मी की हद पार करते हुए अपने कपड़े उतार दिए. जिसके बाद घर में खुशी के माहौल को बरकरार रखने के लिए खटिक परिवार ने पड़ोसियों से 7 हजार रुपये उधार लेकर उनके हाथ में थमा दिए. लेकिन फिर भी किन्नर नहीं मानें और उन्होंने नवजात के पिता को पीटना शुरू कर दिया. जब लोग बीच बचाव करने के लिए बीच में आए तो किन्नरों ने गहरीलाल के सिर को दीवार पर पटक दिया. जिससे उनके दिमाग की नसें फट गईं और उन्हें आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया. घटना के बाद किन्नर मौके से फरार हो गए थे.

अब नवजात बच्चे के पिता की मौत हो गई है और किन्नरों की करतूत की वजह से एक मजदूर परिवार की खुशियां गम में बदल चुकी हैं. किन्नरों की गुंडागर्दी के बाद पीड़ित परिवार ने सूरत के लिंबायत थाने में शिकायत दर्ज कराई है. जिसके आधार पर पुलिस ने गुंडागर्दी करने वाले तीनों किन्नरों को गिरफ्तार कर लिया है.

Read more!

RECOMMENDED