गाजियाबादः प्रेमिका ने मां-बाप के साथ मिलकर की प्रेमी की हत्या, घर में ही दफनाई थी लाश

पुलिस के मुताबिक, मृतक छात्र का अपने पूर्व मकान मालिक की बेटी से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसके चलते हत्या की वारदात की साजिश को पूर्व मकान मालिक और उसकी पत्नी ने रचा था.

सांकेतिक फोटो
पुनीत शर्मा
  • गाजियाबाद ,
  • 04 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 11:51 PM IST

  • 9 अक्टूबर को हुई थी एलएलबी छात्र की हत्या
  • पकड़े गए तीनों आरोपियों ने अपना जर्म कबूला

गाजियाबाद के साहिबाबाद थाना क्षेत्र में 9 अक्टूबर को हुई एलएलबी के एक छात्र की हत्या की साजिश का पुलिस ने खुलासा किया है. हत्या की इस खौफनाक वारदात को अंजाम देने वाली उसकी प्रेमिका थी. इस वारदात में प्रमिका के साथ उसके मां-बाप भी शामिल थे. पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक, छात्र का अपने पूर्व मकान मालिक की बेटी से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसके चलते हत्या की वारदात की साजिश को पूर्व मकान मालिक और उसकी पत्नी ने रचा था. छात्र की प्रेमिका को भी उसके परिजनों द्वारा पहले अपने पक्ष में कर लिया गया था और फिर छात्र की हत्या की साजिश रची गई थी.

इतना ही नहीं उसके शव को दबाए जाने के लिए भी करीब 10 फीट गहरा गड्ढा मकान के अंदर ही उसकी हत्या से 4 दिन पहले ही खोदा जा चुका था. हत्या की प्लॉनिंग के तहत छात्र की प्रेमिका के द्वारा ही एलएलबी के छात्र को पूर्व मकान मालिक ने अपने घर बुलवाया. उसके बाद छात्र की गला दबाकर हत्या कर दी गई. उसके शव को पहले से ही खोदे गए 10 फीट गहरे गड्ढे में दबाकर अपने घर को युवक की कब्रगाह बना मौके से फरार हो गए थे.

युवक के गायब होने के चार दिन बाद यानी 14 अक्टूबर को पुलिस ने छात्र का शव बरामद कर लिया था, लेकिन सभी आरोपी फरार चल रहे थे. इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए क्षेत्राधिकारी राकेश कुमार मिश्रा ने बताया कि थाना साहिबाबाद क्षेत्र स्थित एक कॉलेज में पंकज नाम का छात्र एलएलबी पढ़ाई कर रहा था. वह साइबर कैफे भी चलाता था. पंकज का प्रेम प्रसंग गिरधर एनक्लेव कॉलोनी में ही रहने वाले अपने पूर्व मकान मालिक मुन्ना उर्फ हरिओम की बेटी के साथ चल रहा था. पकड़े गए आरोपियों ने अपना जुर्म कूबल कर लिया है.

Read more!

RECOMMENDED