दिल्ली: पंजाब पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 4 गिरफ्तार

दिल्ली के द्वारा के बिंदापुर में मेट्रो पिलर नंबर 68 के पास एक घर में 5 बदमाश छिपे हुए थे. इसकी सूचना मिलने पर पंजाब पुलिस ने उन्हें चारों तरफ से घेर लिया. यह देखते ही बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी.

दिल्ली के द्वारका के बिंदापुर इलाके में हुई मुठभेड़
मुकेश कुमार/चिराग गोठी/तनसीम हैदर
  • नई दिल्ली,
  • 21 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 1:52 PM IST

दिल्ली के द्वारका के बिंदापुर इलाके में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ से सनसनी मच गई. यहां मेट्रो पिलर नंबर 68 के पास पंजाब पुलिस और फरार चल रहे बदमाशों के बीच कई राउंड फायरिंग हुई. इसके बाद सूचना मिलने पर दिल्ली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने चार बदमाशों को धर दबोच लिया है. एक फरार बताया जा रहा है.

जानकारी के मुताबिक, द्वारा के बिंदापुर में मेट्रो पिलर नंबर 68 के पास एक घर में 5 बदमाश छिपे हुए थे. इसकी सूचना मिलने पर पंजाब पुलिस ने उन्हें चारों तरफ से घेर लिया. यह देखते ही बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस ने भी कई राउंड फायरिंग किया. करीब 25 से 30 राउंड फायरिंग के बाद बदमाश काबू में आए.

इसके बाद पुलिस ने चार बदमाशों को मौके से गिरफ्तार कर लिया, जबकि एक फरार होने में कामयाब हो गया. गिरफ्तार बदमाश कार लुटेरे बताए जा रहे हैं. पुलिस को इनके पास से कई हथियार मिले हैं. इसी बीच सूचना मिलने पर दिल्ली पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई. फिर पंजाब पुलिस के साथ कार्रवाई में शामिल हो गई.

बताते चलें कि इसी साल फरवरी में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एनकाउंटर के बाद कुख्यात गैंगस्टर आशु उर्फ मुकर्रम को गिरफ्तार किया था. आशु अपने जीजा आसिफ के गैंग के साथ लूटपाट के कई मामलों में लिप्त रहता था. उसे पकड़ने पहुंची पुलिस टीम पर उसने साथियों के साथ गोलियां चला दी और वहां से फरार हो गया.

गैंगस्टर आशु पर 25 हजार रुपये का इनाम था. मुकर्रम नंदनगरी की सुंदरनगरी कॉलोनी का रहने वाला है. उससे सेमी ऑटोमैटिक पिस्तौल, चार यूज कार्टेज और एक चोरी की बाइक रिकवर हुई थी. इससे पहले इस गैंग के साथ 1 दिसंबर 2016 को भी पुलिस की मुठभेड़ हुई थी. उस दौरान गैंग के 7-8 सदस्य स्विफ्ट और होंडा सिटी कार में सवार थे.

Read more!

RECOMMENDED