दिल्ली हिंसा मामले में दो लड़कियां गिरफ्तार, पिंजरा तोड़ संगठन की हैं सदस्य

जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर सीएए के खिलाफ महिलाओं की अचानक भीड़ जुट गई थी. जिसके बाद हिंसा हुई थी.

सीएए के खिलाफ दिल्ली में हुई थी हिंसा (फाइल फोटो-पीटीआई)
अरविंद ओझा
  • नई दिल्ली,
  • 23 मई 2020,
  • अपडेटेड 12:19 AM IST

  • दिल्ली हिंसा मामले में दो लड़कियों की गिरफ्तारी
  • पिंजरा तोड़ संगठन से जुड़ी हैं दोनों लड़कियां

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ देश की राजधानी दिल्ली में इस साल फरवरी के महीने में हिंसा भड़क उठी थी. दिल्ली हिंसा मामले को लेकर अभी जांच जारी है और गिरफ्तारियां भी हो रही है. अब दिल्ली हिंसा मामले में दो लड़कियों को गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: जामिया का छात्र आसिफ गिरफ्तार, यूएपीए के तहत कार्रवाई

पिंजरा तोड़ संगठन से जुड़ी दो लड़कियां नताशा और देवांगना को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. दरअसल, जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर सीएए के खिलाफ महिलाओं की अचानक भीड़ जुट गई थी, जिसके बाद हिंसा हुई थी. इस मामले में एफआईआर भी दर्ज है. वहीं दिल्ली हिंसा से इन दोनों लड़कियों के तार जुड़े हुए बताए जा रहे हैं. फिलहाल दोनों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा के आरोपी ताहिर हुसैन को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

दिल्ली हिंसा मामले में नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट पुलिस ने दोनों लड़कियों को गिरफ्तार किया है. दोनों लड़कियों से दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच एसआईटी और दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल भी पूछताछ करेगी. इन दोनों लड़कियों की रविवार को कोर्ट में पेशी होगी.

क्या है पिंजरा तोड़?

बता दें कि पिंजरा तोड़ कॉलेज की छात्राओं का एक ऐसा संगठन है, जिसमें दिल्ली यूनिवर्सिटी के नामी कॉलेज की छात्राएं भी हैं. ये संगठन कॉलेज हॉस्टल के नियमों के खिलाफ जाकर काम करता है और दिल्ली हिंसा में कई बार इस संगठन का नाम सामने आ चुका है.

Read more!

RECOMMENDED