अलवर में गो तस्करी का धंधा, 6 गायों को पुलिस ने बरामद किया

राजस्थान के अलवर जिले में गो तस्करी की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. ताजा मामला मुंडावर थाना क्षेत्र के सिरोड़खुर्द गांव में सामने आया है. यहां से एक पिकअप वैन में 6 गाएं भरकर हरियाणा के मेवात क्षेत्र में ले जाई जा रही थीं.

राजस्थान के अलवर जिले की घटना
मुकेश कुमार/शरत कुमार
  • अलवर,
  • 25 जुलाई 2018,
  • अपडेटेड 8:41 PM IST

राजस्थान के अलवर जिले में गो तस्करी की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. ताजा मामला मुंडावर थाना क्षेत्र के सिरोड़खुर्द गांव में सामने आया है. यहां से एक पिकअप वैन में 6 गाएं भरकर हरियाणा के मेवात क्षेत्र में ले जाई जा रही थीं. इसी बीच लोगों ने वाहन का रास्ता रोक लिया. गो तस्कर गायों को छोड़कर फरार हो गए. पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

जानकारी के मुताबिक, जिले के मुंडावर थाना क्षेत्र में पिकअप में भरकर गायों को हरियाणा ले जाया जा रहा था. गो तस्करों की गाड़ी सिरोड़खुर्द गांव से गुजर रही थी. उसी बीच नाले में उनकी गाड़ी फंस गई. तस्करों ने वाहन को निकालने के खूब प्रयास किए, लेकिन सफल नहीं हो सके. इसी बीच गांव के लोग जग गए. जाकर देखा, तो पता चला कि गाड़ी में गाय हैं.

लोगों ने उनसे पूछताछ शुरू की तो गो तस्कर गायों को मौके पर छोड़कर अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गए. ग्रामीणों ने घटना की सूचना मुंडावर पुलिस को दी. पुलिस ने पिकअप वैन को जब्त कर 5 गायों को गौशाला पहुंचाया. एक मृत गाय का पोस्टमार्टम करवाकर उसे दफना दिया. पुलिस गो तस्करों की तलाश में जुटी हुई है.

बताते चलें कि अलवर वही जिला है, जहां एक साल पहले अप्रैल 2017 में 55 साल के पहलू खान की गोरक्षकों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. पहलू खान पर उस वक्त हमला किया गया, जब वह राजस्थान में गाय खरीदने के बाद हरियाणा जा रहे थे. डेयरी बिजनेस करने वाले पहलू खान की हमले के 2 दिन बाद मौत हो गई थी.

पहलू खान की हत्या पर अब तक देश में गुस्से का माहौल है और विपक्षी दलों समेत तमाम सामाजिक संगठन बीजेपी सरकार को गाय के नाम पर अंजाम दी गई उस घटना के आधार पर घेरते रहे हैं. अब एक बार फिर राजस्थान में हरियाणा के ही रहने वाले रकबर खान को गो-तस्करी के शक में मौत के घाट उतारने की घटना हुई है.

ताजा मामले में रामगढ़ थाना क्षेत्र के लालवंडी गांव में कुछ लोगों ने अकबर खान को पीट-पीटकर मार डाला. रकबर खान के साथ दो गाय थीं. ऐसा देख गो-तस्करी के शक में कुछ लोगों ने पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं बार-बार सार्वजनिक मंचों से गोरक्षा के नाम पर ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वालों लोगों की आलोचना कर चुके हैं.

Read more!

RECOMMENDED