तस्करों के पेट का एक्सरे देखते ही फटी की फटी रह गईं आंखें

चीन की पुलिस ने सीमा पार मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने म्यांमार के चार तस्करों को गिरफ्तार किया है. तस्करों ने मादक पदार्थो के 138 पैकेट निगल लिए थे.

मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गैंग का पर्दाफाश
मुकेश कुमार
  • बीजिंग,
  • 17 दिसंबर 2017,
  • अपडेटेड 4:42 PM IST

चीन की पुलिस ने सीमा पार मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने म्यांमार के चार तस्करों को गिरफ्तार किया है. तस्करों ने मादक पदार्थो के 138 पैकेट निगल लिए थे. ये मादक पदार्थ हेरोइन, मेथामफेटामाइन व याबा हैं.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, पुलिस ने सिचुआन प्रांत में इन संदिग्धों का एक्सरे किया. इनके पेट में अंगूठे की आकार की संरचनाएं पाईं. आखिरकार इनके पास से मादक पदार्थो के 183 पैकेट बरामद किए गए, जिनका वजन 916 ग्राम है.

पुलिस जांच में पता चला कि चारों लोगों को म्यांमार से चोंगकिंग के लिए मादक पदार्थो की तस्करी के लिए कहा गया था. इसके बदले प्रति पैकेट 260 युआन (40 डॉलर) देने का वादा किया गया था. अब तक पुलिस ने 440 ग्राम से ज्यादा की मेथामफेटामाइन, 26 ग्राम याबा और एक किलोग्राम से ज्यादा हेरोइन व आठ बंदूकें जब्त की हैं.

इससे पहले अमेरिका और मेक्सिको के उच्चस्तरीय अधिकारियों ने वाशिंगटन में ट्रांसनेशनल क्रिमिनल आर्गेनाइजेश (टीसीओ) और मादक पदार्थो के अवैध प्रवाह को संयुक्त प्रयासों के साथ रोकने की रणनीतियों पर चर्चा करने के लिए मुलाकात की है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका के उप विदेश मंत्री जॉन सुलिवन ने एक प्रेस सम्मेलन में टीसीओ और मादक पदार्थ को गंभीर समस्या करार देते हुए कहा कि निकट सहयोग ही इन खतरों को कम कर सकता है.

अमेरिकी सरकार के प्रांरभिक आंकड़ों के अनुसार, 2016 में करीब 64,000 अमेरिकियों की मादक पदार्थों के अधिक सेवन से मौत हुई थी. सुलिवन ने देश में मादक पदार्थो की मांग को कम करने के लिए अमेरिका के प्रयासों की आवश्यकता को भी रेखांकित किया.

Read more!

RECOMMENDED