बीजेपी नेता योगेश गौड़ा मर्डर केस: 8 आरोपियों के खिलाफ CBI ने दाखिल की चार्जशीट

कर्नाटक बीजेपी नेता योगेश गौड़ा मर्डर केस में सीबीआई ने 8 आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. गौड़ा की 15 जून 2016 को एक जिम के सामने हत्या कर दी गई थी. हत्या के बाद आरोपी फरार हो गए थे.

योगेश गौड़ा की 15 जून 2016 को हुई थी हत्या (फाइल फोटो)
मुनीष पांडे
  • नई दिल्ली,
  • 22 मई 2020,
  • अपडेटेड 9:27 AM IST

  • 15 जून 2016 को हुई थी हत्या
  • हत्या के वक्त जिम पहुंचे थे गौड़ा
  • 2019 में CBI ने शुरू थी जांच
सीबीआई ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता योगेश गौड़ा मर्डर केस में 8 आरोपियों के खिलाफ धारवाड़ की जेएमएफसी कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. गौड़ा कर्नाटक धारवाड़ जिला पंचायत के सदस्य थे, उनकी 15 जून 2016 को सप्तपुरा में एक जिम के सामने हत्या कर दी गई थी.

सीबीआई ने हत्या के करीब तीन साल बाद 24 सितंबर, 2019 को कर्नाटक सरकार के अनुरोध पर एक केस दर्ज किया था. 2019 से पहले इस केस की जांच धारवाड़ की स्थानीय पुलिस कर रही थी. स्थानीय पुलिस ने सितंबर 2016 को एक फाइनल रिपोर्ट स्थानीय कोर्ट में पेश की थी. पुलिस ने जो चार्जशीट तैयार की थी, उसमें 6 लोगों का नाम दर्ज था.

एफआईआर के मुताबिक जब गौड़ा 15 जून 2016 को अपने जिम में पहुंचे, तभी 6 लोगों ने उनकी आंख में मिर्च फाउडर फेंक दी, वहीं उनकी हत्या कर दी गई. आरोपी अपने साथ 3 बाइक लेकर आए थे, हत्या के बाद वे उसी पर बैठकर फरार हो गए.

झारखंड: तलाकशुदा महिला को प्यार का झांसा, शादी को कहा तो गैंगरेप कर मार डाला

न्यायिक हिरासत में हैं आरोपी

सीबीआई ने जांच के दौरान संतोष सवादत्ती, दिनेश एम, सुनील के, हर्षित, अश्वथ, नजीर अहमद, शहनवाज और नूतन केएस के खिलाफ जांच की. सभी सातों आरोपी फिलहाल पुलिस की न्यायिक हिरासत में हैं, वहीं एक आरोपी जमानत पर है. सीबीआई की चार्जशीट में सभी आरोपियों के नाम दर्ज हैं.

दो बार धारवाड़ आए थे आरोपी

सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौर ने कहा, 'जांच में यह खुलासा हुआ है कि आरोपी जून 2016 में दो बार धारवाड़ आए. सभी आरोपियों ने मिलकर हत्या की साजिश रची. अपराधी अपराध करने के बाद फरार हो गए.'

Read more!

RECOMMENDED