बिहार: 22 करोड़ के सोने की लूट, पुलिस ने बनाई जांच के लिए सबसे बड़ी SIT

बिहार में मुथूट फाइनेंस के ऑफिस से हुई 55 किलो सोने की लूट से सकते में आई पुलिस ने अब इस मामले का खुलासा करने और आरोपियों तक पहुंचने के लिए एसआईटी गठित कर दी है.

प्रतीकात्मक तस्वीर
सुजीत झा
  • पटना,
  • 26 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 5:06 PM IST

  • एसआईटी में 5 आईपीएस और 4 डीएसपी रैंक के अधिकारी
  • वैशाली में मुथूट फाइनेंस से हुई थी 55 किलो सोने की लूट

बिहार में मुथूट फाइनेंस के ऑफिस से हुई 55 किलो सोने की लूट से सकते में आई पुलिस ने अब इस मामले का खुलासा करने और आरोपियों तक पहुंचने के लिए एसआईटी गठित कर दी है. पुलिस ने सबसे बड़ी लूट के खुलासे के लिए सबसे बड़ी एसआईटी बनाई है. एसआईटी में पांच आईपीएस और चार डीएसपी रैंक के अधिकारियों को शामिल किया गया है.

बिहार पुलिस के मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार एसआईटी में एसटीएफ के एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों, मुजफ्फरपुर के एसएसपी जयकांत, वैशाली के प्रभारी एसपी मृत्युंजय कुमार चौधरी, शिवहर के एसपी संतोष कुमार और सीआईडी के एसपी शैलेश कुमार शामिल हैं. इनके अलावा डीएसपी रैंक के चार अधिकारियों को भी एसआईटी में रखा गया हैं.

पुलिस ने कर ली तीन अपराधियों की पहचान

वैशाली के मुथुट फाईनेंश कम्पनी के कर्मचारियों को भयभीत कर अपराधियों ने 55 किलो सोना लूट लिया था. लूटे गए सोने की अनुमानित कीमत 22 करोड़ रुपये बताई जा रही है. यह बिहार में सोने की अब तक की सबसे बड़ी लूट है. अपराधियों ने हाजीपुर में लूट की इस वारदात को 23 नवंबर को दिन दहाड़े अंजाम दिया. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले, जिसमें सात हथियारबंद अपराधी नजर आए. सीसीटीवी फुटेज में कुछ का चेहरा भी नजर आया, जिसके आधार पर तीन अपराधियों की पहचान हो गई है. पुलिस ने अपराधियों का स्केच भी जारी किया है, लेकिन अभी तक कोई गिरफ्तारी नही हुई हैं.

लूट को 18 से 25 वर्ष के अपराधियों ने दिया अंजाम

वैशाली जिले के हाजीपुर में हुई इस वारदात को 18 से 25 वर्ष के अपराधियों ने अंजाम दिया है. पुलिस के मुताबिक इस गिरोह में कुछ नए अपराधियों के साथ कुछ पुराने शातिर अपराधी भी शामिल हैं. वारदात के तार हाजीपुर जेल से जुड़े होने की भी आशंका जताई जा रही है. सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए बारीक और व्यापक जांच हो, इसीलिए बिहार पुलिस ने इतनी बड़ी एसआईटी बनाई है.

इसी साल हुई थी 32 किलो सोने की लूट

इसी साल फरवरी में बिहार के ही मुजफ्फरपुर में भी सोना लूटे जाने की बड़ी घटना हुई थी. 32 किलो सोने की लूट हुई थी. पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए 7 अपराधियों को गिरफ्तार करने के साथ ही 18 किलो सोना बरामद कर लिया था. इस वर्ष बिहार के अलावा देश के कई अन्य इलाकों में भी अपराधियों ने सोने की लूट को अंजाम दिया. फरवरी महीने में मेरठ के मुथूट फाइनेंस के ही दफ्तर से 15 किलो सोने की लूट हुई थी. वहीं मई में कोच्चि के एक ज्वेलर से भी 22 किलो सोने की लूट हुई थी.

केरल में हुई थी सबसे बड़ी लूट

देश में सोने की अब तक की सबसे बड़ी लूट केरल में 30 दिसंबर 2007 को हुई थी. मल्लपुरम में हुई लूट की घटना में अपराधियों ने 80 किलो सोना लूट लिया  था. यह रात के अंधेरे में की गई वारदात थी, लेकिन हाजीपुर में लूट को दिन दहाड़े अंजाम दिया गया. इसलिए पुलिस भी इसको लेकर बेहद गंभीर हैं. अपराधियों को पकड़ने के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी भी कर रही हैं.

Read more!

RECOMMENDED