पुलिस एंड इंटेलिजेंस

सस्पेंड SDO ने पत्नी और बहू को गनपॉइंट पर बनाया बंधक, समधी को मारी गोली

aajtak.in
  • रीवा ,
  • 08 अप्रैल 2021,
  • अपडेटेड 10:40 AM IST
  • 1/7

एमपी के रीवा में एक सनकी एसडीओ ने 12 घंटों तक पत्नी और बहू को गनपॉइंट पर बंधक बनाए रखा. इतना ही नहीं, पुलिस के सामने ही समझाइश देने गए बहू के पिता को गोली मार दी. इस घटना में समधी गंभीर रूप से घायल हो गए. पुलिस ने घंटों की मशक्कत के बाद रेस्क्यू किया और रायफल कब्जे में लेकर परिजनों को बंधक मुक्त कराया. (रीवा से व‍िजय कुमार व‍िश्वकर्मा की र‍िपोर्ट)

  • 2/7

मामला रीवा जिले के समान थाना इलाके के नेहरू नगर का है. गुरुवार सुबह आरईएस में पदस्थ 57 वर्षीय एसडीओ सुरेश मिश्रा को सनक सवार हो गई. एसडीओ ने पत्नी और बहू को गनपॉइंट में ले लिया और फायरिंग करने लगे. 
 

  • 3/7

एसडीओ की हरकत की सूचना मिलते ही पुलिस के साथ बहू के पिता श्रीनिवास भी मौके पर पहुंचे लेकिन समझाइश के दौरान सुरेश ने फायर कर दिया. गनीमत थी कि गोली श्रीनिवास के पैरों में लगी. 

  • 4/7

इस घटना के बाद अफरा-तफरी मच गई और पुलिस उल्टे पांव लौट गई.  एसडीओ ने पत्नी और बहू को घर में कैद कर एक के बाद एक 10 राउंड फायर किए. इससे पूरे इलाके में दहशत फ़ैल गई. 

 

  • 5/7

घंटों मशक्कत के बाद पुलिस ने साहस का परिचय दिया और घर का दरवाजा तोड़कर एसडीओ को कब्जे में लेकर परिवार को बंधक मुक्त कराया.

  • 6/7

थाना प्रभारी, जगदीश सिंह ठाकुर ने बताया क‍ि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग डिंडोरी में सुरेश मिश्रा एसडीओ के पद पर थे जिन्हें हालही में वित्तीय अनियमितताओं के चलते निलंब‍ित किया गया है. नेहरू नगर स्थित आवास में पत्नी और बहू को गनपॉइंट पर लिया था. इसकी सूचना पर पुलिस मौके पर गयी लेकिन एसडीओ की सनक ने पुलिस के होश उड़ा दिए. पुलिस खड़ी रही और एसडीओ ने अपने समधी श्रीनिवास तिवारी को गोली मार दी. इन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस घटना से मोहल्ले में  कई घंटों तक दहशत फैली रही. एसडीओ के बन्दूक का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया है. प्रशासन एसडीओ की करतूतों की जांच कर रहा है.    
 

  • 7/7

वहीं तहसीलदार यतींद्र शुक्ला ने बताया क‍ि एसडीओ के घर में पुलिस को घर में फैला कैश और कुछ कागज़ात मिले, जिससे अंदाज लगाया जा रहा है कि निलबंन की वजह से एसडीओ ने अपना आपा खो दिया और सनक सवार हो गई. इस वजह से वह परिवार की जान लेने पर आमादा हो गए. पुलिस ने एसडीओ को हिरासत में लेकर अस्पताल भेजा है और पूरे मामले की जांच कर रही है. 

लेटेस्ट फोटो