पुलिस एंड इंटेलिजेंस

MP: दबंगों ने जमीन पर थूककर शख्स से चटवाया, रॉड -डंडों से पीटा, जूता भी सिर पर रखवाया

योगितारा दूसरे
  • सतना ,
  • 18 अगस्त 2021,
  • अपडेटेड 8:59 AM IST
  • 1/8

एमपी के सतना में एक वर्ग विशेष की दबंगई का वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में दो दबंग एक युवक के साथ गाली-गलौज करते नजर आ रहे हैं और फिर जमीन पर थूककर उससे चटवाते नजर आते हैं. दबंग उसे गोली मार देने की भी धमकी दे रहे हैं. यह वीडियो 15 अगस्त का है. 

  • 2/8

दोनों दबंगों के हाथ में पाइप सरीखे डंडे हैं.  कुछ देर में एक शख्स अपना दायां पैर उठाता है और पीड़‍ित व्यक्ति को जूता सिर-माथे पर लगाने का हुक्म देता है. मरता क्या न करता...पीड़‍ित शख्स अपने माथे पर दो बार जूता लगाता है. मंगलवार शाम पीड़‍ित एसपी कार्यालय पहुंचा और एडिशनल एसपी को लिखित आवेदन देकर जान सलामती की गुहार लगाई है.

  • 3/8

दरअसल, कुछ दबंग क्षत्रियों ने एक ब्राह्मण को इस कदर पीटा कि बर्बरता की कहानी खुद पीड़‍ित के शरीर पर जगह-जगह बने चोट के निशान कह रहे हैं. यह बात सतना जिले के नागौद कस्बे की है. अपनी पत्नी को इलाज के लिए अस्पताल छोड़कर लौट रहे उरदान (नागौद) निवासी पीड़ित संतोष पाण्डेय को आरोपी शशांक सिंह ने कार सामने लगाकर रास्ता रोका और अपनी गाड़ी में बिठा लिया.
 

  • 4/8

नागौद कस्बे से एक किलोमीटर दूर बल्लाधार पुल के पास ले जाकर पहले जमकर मारपीट की और अमानवीय व्यवहार भी किया. आरोपी शशांक सिंह और सुजीत नाम के युवकों ने पीड़‍ित के साथ जमकर मारपीट की जबकि आरोपियों का एक साथी अपने मोबाइल पर वीडियो भी बनाता रहा.

  • 5/8

शिकायत करने पर आरोपियों ने पीड़‍ित को जान से मारने की धमकी दी. दो दिन बाद पीड़‍ित ने किसी तरह हिम्मत जुटाकर नागौद थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई मगर पुलिस ने सिर्फ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की रिपोर्ट लिखी. ऐसे में मारपीट से घायल युवक जिला मुख्यालय पहुंचा और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई. एएसपी ने पीड़ित की फरियाद सुनी और इस मामले में जांच कर कार्रवाई की बात कही है. 

  • 6/8

पीड़‍ित संतोष पाण्डेय के अनुसार, वह जब 15 अगस्त को अपनी पत्नी का उपचार कराने के लिए आया था तो पैसे के लेन-देन को लेकर शशांक सिंह और सुजीत सिंह सहित चार लोगों ने उसको रोका और गाड़ी में बिठाकर दूर ले जाकर डंडों से पिटाई की. दबंगों ने न केवल पिटाई की बल्कि उसके साथ अमानवीय बर्ताव भी किया. पुलिस मामले की जांच करने की बात कह रही है.

  • 7/8

पीड़‍ित संतोष पाण्डेय ने बताया कि आरोपी मार-मारकर जबरदस्ती मुझसे कहवा रहे थे कि जैसा हम कहें, वैसा करो, तो मैं अपनी जान बचाने के लिए वो जैसा बोल रहे थे, मैं वैसा कह रहा था. वो जमीन पर थूक रहे थे और मुझसे कह रहे थे इसको चाटो जीभ लगाकर. फिर वो मुझसे बोले कि चूमो इसको जीभ लगाकर...पैर पड़ो मेरे. अपना जीवन बचाने के लिए मैं ऐसा करता रहा. वह धमकी दिए कि मैं तुमको गोली मार दूंगा... यहीं नदी बह रही है, फेंक दूंगा कोई पता नहीं कर पाएगा. कभी किसी से कहा या फिर किसी थाने में एफआईआर की तो अंजाम अच्छा नहीं होगा...डर के मारे मैं कहीं नहीं गया. बाद में थाने में एफआईआर की, इसके बाद मैं सतना में दवाई कराता रह गया. अब मैं एसपी ऑफिस आया हूं. यहां मैं मदद के लिए प्रार्थना करने आया हूं. मेरी जान को खतरा है. वो बार-बार अभी भी फोन कर धमकी दे रहे हैं. मेरे पास रिकॉर्डिंग है. कह रहे हैं कि मैं गोली मार दूंगा, कहीं भी एफआईआर की और मीडिया से बात की तो.

  • 8/8

इस मामले में पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने गंभीरता दिखाई. मामला जैसे ही प्रकाश में आया, सतना एसपी ने फरार आरोपियों पर 10-10 हजार का इनाम घोषित किया और आरोपी शशांक सिंह और उसके तीन साथियों पर आईपीसी की धारा 365, 386, 341, 294, 323, 500, 506, 34 के तहत नागौद थाने में एफआईआर दर्ज करवाई. मंगलवार देर रात आरोपियों को सीधी जिले से गिरफ्तार कर लिया गया.