पुलिस एंड इंटेलिजेंस

अपने घर में पांच दिन से मृत पड़े थे सेना से रिटायर्ड कैप्टन, सोया हुआ समझ रहा था बेटा

  • 1/6

भारतीय सेना से रिटायर्ड करीब 72 वर्षीय कैप्टन राम सिंह अपने ही घर में 5 दिन से मृत पड़े हुए मिले. ऐसा नहीं है कि राम सिंह घर में अकेले रह रहे थे, उनके साथ मानसिक रूप से विक्षिप्त उनका एक बेटा प्रवीण भी रहता था जो पांच दिन तक यही सोचता रहा कि उसके पापा सो रहे हैं. (यमुना नगर से आशीष शर्मा की रि‍पोर्ट)

  • 2/6

इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब प्रवीण घर की छत पर कुछ कपड़े जला रहा था, जिसे देख पड़ोस की एक महिला ने पुलिस को सूचना दी. बहरहाल पुलिस ने वृद्ध का सड़ा-गला शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है.

  • 3/6

मामला हरियाणा के यमुना नगर के पॉश इलाके हुड्डा सेक्टर 17 का है जहां भारतीय सेना से ऑनरेरी कैप्टन रैंक से रिटायर्ड 72 साल के राम सिंह और उनका एक बेटा प्रवीण कुमार लंबे समय से रह रहे थे.

  • 4/6

जानकारी के अनुसार, राम सिंह की पत्नी और एक बेटी की मौत पहले ही हो चुकी है. रिटायर्ड कैप्टन राम सिंह पांच दिन पहले रात को रजाई लेकर सोए लेकिन सुबह नहीं जागे. प्रवीण, मानसिक रूप से विक्षित है इसलिए उसे लगा कि उसके पापा खाना खाने के लिए जरूर जागेंगे. इस दौरान वह अपने पिता की मौत से बेखबर पिछले पांच दिन से उनके शव के साथ रहता रहा. 

  • 5/6

गुरुवार सुबह जब प्रवीण अपने घर की छत पर कुछ पुराने कपड़े जला रहा था तो एक पड़ोसी महिला ने पुलिस कंट्रोल रूम में इसकी सूचना दी. प्रवीण को पुलिस कपड़े जलाने को लेकर अभी समझा ही रही थी कि कमरे से उठ रही बदबू ने अधिकारियों का ध्यान अपनी तरफ खींचा.

जब पुलिस ने भीतर देखा तो उन्हें रजाई में वृद्ध राम सिंह का सड़ा-गला शव मिला. पास ही खड़े मानसिक विक्षिप्त बेटे प्रवीण ने बोला कि उसके पापा अभी सो रहे है, इन्हें क्या हुआ? क्या यह ठीक हो जाएंगे?  

  • 6/6

पुलिस जांच अधिकारी राम कुमार ने बताया कि प्रवीण पूरी तरह से दिमागी तौर पर अस्वस्थ है. पड़ोसियों के मुताबिक, राम सिंह किसी पड़ोसी से भी बातचीत नहीं करते थे. फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अपनी जांच शुरू कर दी है. पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद साफ होगा कि मौत का कारण ठंड है या किसी और वजह से मौत हुई है.

लेटेस्ट फोटो