पुलिस एंड इंटेलिजेंस

बदमाशों ने डॉक्टर को आगरा से क‍िया था क‍िडनैप, 30 घंटे बाद पुलिस ने बचाया

उमेश मिश्रा
  • धौलपुर ,
  • 15 जुलाई 2021,
  • अपडेटेड 7:51 PM IST
  • 1/8

चार बदमाशों ने बीते मंगलवार की देर शाम को उत्तर प्रदेश के आगरा जिले से एक डॉक्टर उमाकांत गुप्ता का अपहरण कर लिया था. बदमाश डॉक्टर की कार में सवार होकर धौलपुर जिले के दिहौली थाना इलाके में आ गए और चम्बल के बीहड़ों के रास्तों से होते हुए तीन बदमाश डॉक्टर को चंबल पार मध्य प्रदेश की सीमा में ले गए. लेकिन अब तीस घंटे बाद पुलिस ने उस डॉक्टर का रेस्क्यू कर लिया है. डॉक्टर सुरक्षित बचा लिया गया है.

  • 2/8

जब देर रात निहालगंज थाना पुलिस के गश्तीदल को आगरा की कार संदिग्धावस्था में मिली. गश्तीदल ने कार को रुकवाया और कार सहित बदमाश को पुलिस थाने लाए. 

  • 3/8

जब पुलिस ने बदमाश से पूछताछ की तो उसने सारा सच उगल दिया कि आगरा से एक डॉक्टर का अपहरण करके हम चार लोग ले गए हैं जिसके बाद गश्तीदल ने पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत को मामले की जानकारी दी और एसपी शेखावत ने आगरा पुलिस को सूचना दी. एसपी शेखावत ने निहालगंज थाने पहुंच कर पकड़े गए संदिग्ध बदमाश से पूछताछ की. उसने डॉक्टर के अपहरण की बात बताई. 

  • 4/8

बुधवार को आगरा पुलिस के धौलपुर पहुंचने पर धौलपुर पुलिस के साथ डॉक्टर और तीन बदमाशों की तलाश में दिहौली थाना इलाके के सामौर, शाला और जैतपुर और एमपी के मुरैना जिले के महुआखेड़ा और पिपरीपुरा के जंगलो में कॉम्बिंग अभियान चलाया गया. कई इलाकों में तलाशी की गई और आखिरकार डॉक्टर को 30 घंटे बाद बचाया जा सका.

  • 5/8

सूत्रों के मुताबिक़, डॉक्टर की पत्नी डॉ. विद्या गुप्ता ने बताया कि अस्पताल से राउंड लेकर उनके पति उमाकांत गुप्ता रात को दस बजे के आस-पास घर आ जाते थे लेकिन बीते मंगलवार की रात ग्यारह बजे तक उमाकांत गुप्ता घर नहीं पहुंचे और उनका मोबाइल भी देर शाम साढ़े सात बजे से स्विच ऑफ़ था. 

  • 6/8

इसके बाद डॉ. विद्या गुप्ता ने आगरा पुलिस को अपने पति के गायब होने की सूचना दी. आगरा के एफ 46 यमुना कॉलोनी के रहने वाले चिकित्सक उमाकांत गुप्ता सर्जन हैं और रोजाना की तरह अपनी कार से हाईवे स्थित अपने नर्सिंग होम जाने के लिए निकले थे. आगरा पुलिस ने डॉक्टर गुप्ता की लोकेशन ट्रेस की तो अंतिम लोकेशन तेहरा, सैंया की मिली. आगरा पुलिस ने सैंया टोल प्लाजा के सीसीटीवी फुटेज भी चैक किए और देखा क‍ि डॉक्टर की कार ने टोल प्लाजा पार नहीं किया था. (प्रतीकात्मक फोटो)

  • 7/8

धौलपुर एसपी के मुताबिक़, डॉक्टर की कार ले जाते हुए पकड़े गए बदमाश के मुताबिक़ डॉक्टर उमाकांत गुप्ता को अन्य तीन बदमाश चोर रास्तों से होते हुए दिहौली थाना इलाके में पहुंचे और जहां से डॉक्टर को चंबल नदी पार करा कर मध्य प्रदेश की सीमा मुरैना में ले गए. पकड़े गए बदमाश की निशानदेही पर पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत और यूपी पुलिस के साथ चम्बल के बीहड़ों में डॉक्टर और बदमाशों की तलाश में जुट गए थे. (प्रतीकात्मक फोटो)

  • 8/8

धौलपुर पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने बताया कि कल रात को निहालगंज थाना पुलिस को एक संदिग्ध गाड़ी गश्त के दौरान मिली जिसने गश्ती दल को पैसे ऑफर करने की कोशिश की तो गश्ती दल को और संदेह हुआ कि कहीं ना कहीं अपराध में संलिप्त हैं. इसके बाद जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह आगरा से किसी व्यक्ति का अपहरण करके लाये थे और उसको चम्बल किनारे दिहौली थाना क्षेत्र में ड्रॉप करके आए हैं. मामला आगरा से जुड़ा हुआ था इसलिए रात में आगरा पुलिस को सूचना दी गई और आगरा एसपी सिटी के साथ कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाया गया. आगरा पुलिस अधीक्षक सिटी रोहन बोत्रे ने बताया कि मंगलवार शाम से डॉक्टर गायब थे और उनकी मिसिंग के लिए सर्च अभियान चला रहे थे. (प्रतीकात्मक फोटो)

लेटेस्ट फोटो