पुलिस एंड इंटेलिजेंस

भोपाल के इंजीनियर की US में हत्या, 'गर्लफ्रेंड के करीब होना चाहता था आरोपी'

रवीश पाल सिंह
  • भोपाल,
  • 04 अप्रैल 2021,
  • अपडेटेड 12:34 AM IST
  • 1/7

मध्य प्रदेश के भोपाल के रहने वाले एक युवक की अमेरिका के सेंट लुईस में गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है. अमेरिकी पुलिस ने 23 साल के कोल जे मिलर नाम के अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं, भोपाल में मृतक के परिजन अपने बेटे के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं. 

  • 2/7

अमेरिकी न्यूज वेबसाइट stltoday.com की रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय पुलिस ने जानकारी दी है कि हत्या का आरोपी, शरीफ रहमान खान की गर्लफ्रेंड के करीब होना चाहता था. इसकी वजह से उसने इस घटना को अंजाम दिया.

  • 3/7

वहीं, भोपाल के सुभाष नगर में रहने वाली शरीफ की मां रुखसाना के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. उन्हें कभी अंदाजा नहीं था कि सुनहरे भविष्य की आस लेकर सात समंदर पार जाने वाला उसका बेटा वापस नहीं आएगा.

  • 4/7

दरअसल, 30 साल के शरीफ रहमान खान की अमेरिका के सेंट लुईस में एक सिरफिरे ने गोली मारकर हत्या कर दी है. उसके बाद से ही परिवार का हाल बेहाल है. करीब 6 साल पहले शरीफ बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर सेंट लुईस में नौकरी करने गए थे. शरीफ हर साल ईद पर छुट्टियां मनाने भोपाल आते थे. शरीफ के बड़े भाई मुजीब रहमान खान ने 'आजतक' से बात करते हुए बताया कि उन्हें शरीफ के दोस्तों ने फोन कर बताया था कि एक लड़के ने शरीफ को गोली मार दी है और उसकी मौत हो गई है. (प्रतीकात्मक फोटो)

  • 5/7

भाई मुजीब का कहना है कि शरीफ बेहद सीधा लड़का था और हमेशा लोगों की मदद के लिए तैयार रहता था. हमें जानकारी मिली है कि जिसने शरीफ को गोली मारी है उसपर पहले भी कई मामले दर्ज हो चुके हैं. मुजीब अब अपने भाई के लिए इंसाफ मांग रहे हैं. वह 6 महीने पहले भोपाल आया था. अगर हमें जरा भी अंदाजा होता कि ऐसा होने वाला है तो हम उसे किसी कीमत पर यहां से जाने नहीं देते. (प्रतीकात्मक फोटो)

  • 6/7

शरीफ की मौत होने पर उसके परिवार वाले उसे आखिरी बार देखने के लिए अमेरिका भी ना जा सके. सेंट लुईस में ही शरीफ को सुपुर्दे खाक किया गया और यह सब कुछ परिवार ने भोपाल में वीडियो कॉल के जरिए LIVE देखा. घरवालों को इस बात का मलाल है कि वो उसके पास भी ना जा सके. अब परिवार ने सोशल मीडिया का सहारा लिया है और अपने बेटे की मौत के मामले में इंसाफ की मांग की है.

  • 7/7

परिजनों का कहना है कि शरीफ फौज में जाना चाहता था लेकिन किस्मत ने उसे अमेरिका भेज दिया था. किसे पता था वो वहां से वापस नहीं आ सकेगा. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कहा है कि परिवार की पूरी मदद की जाएगी. (फोटो- प्रतीकात्मक)

लेटेस्ट फोटो