पुलिस एंड इंटेलिजेंस

राजस्थान: CBI अधिकारी बनकर घूमता रहा शातिर, एक गलती से पहुंच गया जेल

भारत भूषण जोशी
  • पाली,
  • 03 अप्रैल 2021,
  • अपडेटेड 8:20 PM IST
  • 1/9

सिर्फ 10वीं पास एक युवक ने ऐसा कारनामा कर डाला जिसे देख सबके होश उड़ गए. दरअसल, राजस्थान के पाली का शातिर युवक चार साल से फर्जी आईपीएस बनकर लोगों को ठग रहा था, वो भी बकायदा आईपीएस की वर्दी पहनकर. (फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 2/9

यहीं नहीं, वर्दी में आईपीएस के बैजेज, अशोक स्तंभ, स्टार के बैजेज लगे हुए थे. साथ में फर्जी आईकार्ड, नकली एयरगन और वॉकी-टॉकी. बताया जा रहा है कि जब वर्ष 2015 में कांस्टेबल की परीक्षा में वह पास नहीं हो सका तभी से इस बदमाश ने आईपीएस बनकर धौंस जमाना शुरू कर दिया. (फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 3/9

गुरुवार की रात आरोपी खुद को सीबीआई का एसपी बताकर ट्रैवल एजेंट पर धौंस जमा रहा था ताकि एसी बस में फ्री में मुंबई जा सके. ट्रैवल बस एजेंट ने पुलिस को इस मामले की जानकारी दी. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. मामले की जांच के बाद पुलिस ने आरोपी को नया स्टैंड से गिरफ्तार कर लिया.(फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 4/9

पुलिस का कहना है कि आरोपी रामचंद्र भार्गव सर्वोदय नगर का रहने वाला है. उसने आईडी कार्ड पर राजवीर शर्मा लिखा हुआ है. एसपी कालूराम रावत ने बताया कि नया बस स्टैंड चौकी प्रभारी ओमप्रकाश चौधरी और उनकी टीम भी आरोपी को देखकर हैरत में पड़ गई क्योंकि वह हूबहू आईपीएस जैसा लग रहा था. (फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 5/9

थाने में लाकर पूछताछ करने पर उसने सच्चाई उगल दी. आरोपी को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया, वहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है. पुलिस का कहना है कि आरोपी की वर्दी, उस पर लगे आईपीएस, अशोक स्तंभ तथा स्टार के बेजेज, फर्जी आईकार्ड, नकली एयरगन समेत कई प्रतिबंधित वस्तुएं जब्त कर ली गई हैं. (फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 6/9

बताया जा रहा है कि इस आरोपी ने करीब 4 साल पहले पाली के ही वीडी नगर में एक किशोरी को खुद को आईपीएस अधिकारी बताते हुए धमकाने का प्रयास किया था. तब पुलिस उसे पकड़कर थाने ले आई थी. उस वक्त वर्दी में नहीं होने से उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया गया था.(फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 7/9

पुलिस ने जब आरोपी की जांच पड़ताल की तो कई खुलासे सामने आए. आरोपी का परिवार मूलत: रेण नागौर का रहने वाला है. आरोपी की इन्हीं आदतों कि वजह से उसके घर में भी कलह बनी रहती थी.(फोटो-प्रतीकात्मक) 

  • 8/9

इसके बाद से ही उसकी पत्नी दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करवाकर अपने मायके रह रही थी. उस पर नागौर जिले में दहेज प्रताड़ना का मुकदमा भी दर्ज है. आरोपी को ऐशोआराम की जिदंगी जीने का बहुत शौक था. इसके लिए उसने फर्जी आईपीएस बनने की ठान ली थी. (फोटो-प्रतीकात्मक)

  • 9/9

मुंबई, पुणे, हैदराबाद और बेंगलुरु में थ्री और फाइव स्टार होटलों में रौब जमाकर रुकने की भी आदत हो चुकी थी. यहीं नहीं ब्रांडेड कपड़े भी दुकानदारों से ठग कर लिए थे. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है और आरोपी से पूछताछ कर रही है.(फोटो-प्रतीकात्मक)

लेटेस्ट फोटो