सुशांत की गर्दन पर मौजूद निशान से शक गहराया, AIIMS टीम ने पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टरों से पूछे सवाल

रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत की गले पर मौजूद जख्म का निशान सवालों के घेरे में है. रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत के गले में मौजूद जख्म के निशान (LIGATURE MARK) उसके गले के बीच में है और सीधी रेखा की तरह दिखाई देता है. जबकि सुसाइड के मामले में ये जख्म गर्दन के एकदम ऊपर होते हैं, और ये निशान तिरछे होते हैं और खरोंच की तरह दिखते हैं.

सुशांत सिंह राजपूत
अंजना ओम कश्यप
  • नई दिल्ली,
  • 06 सितंबर 2020,
  • अपडेटेड 10:03 AM IST
  • सुशांत के गले पर मौजूद निशान पर पूछताछ
  • सुशांत के गले पर सीधा निशान कैसे?
  • पोस्टमॉर्टम करने वाली टीम से AIIMS डॉक्टरों का सवाल

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले में एम्स के तीन डॉक्टरों की टीम ने सुशांत की बॉडी का पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टरों से पूछताछ की है. इस पूछताछ में एम्स के डॉक्टरों ने सुशांत के गले में मौजूद जख्म के निशान को लेकर सवाल उठाया है.  

रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत के गले पर मौजूद जख्म का निशान सवालों के घेरे में है. रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत के गले में मौजूद जख्म के निशान (LIGATURE MARK) उसके गले के बीच में है और सीधी रेखा की तरह दिखाई देता है. जबकि सुसाइड के मामले में ये जख्म गर्दन के एकदम ऊपर होते हैं, और ये निशान तिरछे होते हैं और खरोंच की तरह दिखते हैं. 

माना जा रहा है कि एम्स के तीन डॉक्टरों ने बॉडी का पोस्टमॉर्टम करने वाले 5 डॉक्टरों से सुशांत की गर्दन पर मौजूद निशान को लेकर लंबा सवाल किया है. 

AIIMS के 3 सदस्यीय टीम ने सुशांत सिंह की बॉडी का पोस्टमार्टम करने वाले 5 डॉक्टरों से पूछताछ के लिए जो प्रश्नावली तैयार की है. वो इस तरह है.

1-सुशांत के गले पर मौजूद जख्म के निशान (Ligature mark) पर आप लोगों की क्या राय है.

2-कृपया ये बताइए कि आप लोगों ने Ligature strangulation की आशंका को कैसे खारिज किया है?

3-सुशांत के गले पर जख्म के निशान 'कुर्ता' से कैसे पैदा हो सकते हैं, जिसे कथित रूप से ligature material बताया जा रहा है. 

4-कृपया ये बताइए कि सुशांत की खुदकुशी को लेकर Homicidal ligature strangulation की धारणा जो दुनिया में बनी है उससे जो शंका पैदा हुई है, उसका निवारण आप कैसे करेंगे. 

बता दें कि एम्स के डॉक्टर टी मिल्लव, डॉ आदर्श कुमार और डॉ अभिषेक यादव मुंबई में पोस्टमार्टम से जुड़ी सारे सवालों पर पूछताछ कर रहे हैं.  ये डॉक्टर 4 सितंबर से मुंबई में हैं और आज दोपहर तक दिल्ली लौट सकते हैं. इन डॉक्टरों को उन स्थानों पर भी जाने का अधिकार है, जहां घटना हुई है, इसके अलावा जहां पोस्टमॉर्टम हुआ है, वहां भी ये डॉक्टर जा सकते हैं. 

इन डॉक्टरों को मुंबई में सीबीआई टीम से भी बात करने का अधिकार है. इसके अलावा एम्स की ये टीम पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों और मॉर्चरी के स्टाफ से भी पूछताछ कर सकती है. 

Read more!

RECOMMENDED