क्राइम न्यूज़

आगरा: गर्लफ्रेंड ने मांगा मोबाइल, छीनने के लिए किया दोस्त का मर्डर

  • 1/5

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले से हत्या का एक मामला सामने आया है. जहां पर एक युवक अपनी गर्लफ्रेंड को स्मार्टफोन दिलाने के लिए कातिल बन गया. इस हत्या में शामिल दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार केस का खुलासा कर दिया है. पुलिस ने बताया कि यह एक ब्लाइंड केस था. इसे सुलझाना काफी चुनौतीपूर्ण रहा.  

(इनपुट- अरविंद शर्मा)

(फोटो आजतक)

  • 2/5

यह मामला आगरा के सैंया इलाके का है. जहां पर एक अज्ञात शव 6 जनवरी को मिला था. पुलिस ने जब इस अज्ञात शव की शिनाख्त की तो उसकी पहचान जितेंद्र के रूप में हुई. पुलिस ने जब इसकी गहराई से जांच की तो पता चला कि जितेंद्र की हत्या उसी के दोस्त मोनू ने की थी. मोनू की गर्लफ्रेंड उससे लगातार एक स्मार्टफोन की मांग कर रही थी. मोनू पूरी तरह से बेरोजगार था, लिहाजा गर्लफ्रेंड की इस मांग को वह पूरा नहीं कर पा रहा था.

  • 3/5

फिर आरोपी मोनू ने अपनी गर्लफ्रेंड को मोबाइल देने के लिए एक प्लान बनाया. मोनू के दोस्त जितेंद्र के पास स्मार्टफोन था और मोनू जितेंद्र का मोबाइल लेना चाह रहा था. जिस वजह से मोनू ने अपने ही एक साथी को मदद के लिए अपने संग मिला लिया और बहाने से जितेंद्र को अपने साथ ले गया. मोनू और उसके साथी ने जितेंद्र को पकड़ लिया और जितेंद्र की शर्ट से गला दबाकर बेरहमी से हत्या कर दी. इसके बाद मृतक के नाक और मुंह में मिट्ठी डाल दी. जिससे उसकी बचने की गुंजाइश पूरी तरह से खत्म हो जाए. 

  • 4/5

जब जितेंद्र के मरने की पुष्टि हो गई तो उसके बाद मोबाइल लूटकर मोनू और उसका साथी फरार हो गए. पुलिस ने मोनू और उसके साथी को गिरफ्तार करके जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है.

  • 5/5

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि 6 जनवरी को सैंया इलाके में सरसों के खेत में एक युवक का शव मिला था. मृतक की शिनाख्त जितेंद्र पुत्र सुनहरी निवासी चमरपुर डांग घियावली धौलपुर के रूप में हुई थी. वो सैंया में अपनी बहन के घर आया था. पांच जनवरी को बहन के घर से निकलने के बाद वो गायब हो गया था. जिसके बाद उसके परिजनों ने पांच जनवरी को ही सैंया थाने में जितेंद्र की गुमशुदगी दर्ज करा दी थी. एसएसपी ने बताया कि जितेंद्र की हत्या इमली बस्ती निवासी मोनू और सुमित ने की थी. दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

लेटेस्ट फोटो