क्राइम न्यूज़

UP: भाई निकले बहन के कातिल, प्रेमी को फंसाने के लिए रची थी खौफनाक साजिश

शरद गौतम
  • मुरादाबाद,
  • 01 जुलाई 2021,
  • अपडेटेड 8:53 PM IST
  • 1/8

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में हुई हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. थाना डिलारी इलाके में बीती 27 जून की रात अजय कुमार नाम के शख्स ने डायल 112 पर कॉल करके सूचना दी कि उसकी 18 वर्षीय बहन ने घर में दुपट्टे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है.  सूचना पर पुलिस पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच शुरू कर दी. 

  • 2/8

मृतक लड़की के भाई अजय कुमार ने बताया कि गांव का एक लड़का रामू उसकी बहन को परेशान करता था. जिसकी वजह से उसकी बहन ने आत्महत्या की है, पुलिस ने जानकारी के बाद युवक रामू की तलाश शुरू कर दी. लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जो बात सामने आई उससे पुलिस हैरान रह गई. पीएम रिपोर्ट में सामने आया कि लड़की की मौत गला घोंटने से हुई है. 

  • 3/8

पुलिस ने लड़की के भाई अजय पर नजर रखना शुरू की और कुछ समय बाद उसे हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई. पुलिस को पता चला कि उसने अपने फुफेरे भाई आशु के साथ मिलकर अपनी बहन का गला दबाकर हत्या की थी. इसके बाद शव को फांसी के फंदे पर लटकाया गया जिससे बहन के प्रेमी रामू को हत्या के मामले में फंसाया जा सके. 

  • 4/8

पुलिस ने दोनों भाइयों को बहन की हत्या के आरोपी में जेल भेज दिया है. पुलिस ने बताया कि जनपद के थाना इलाके के रहने वाले अजय कुमार का गांव के ही रहने वाले रामू से विवाद हो गया था. क्योंकि रामू आरोपी की बहन से प्रेम करता था और अजय को यह बात बिल्कुल भी पसंद नहीं थी. 

  • 5/8

आरोपी अजय ने इज्जत का हवाला देकर अपने फुफेरे भाई को साथ में लिया और रामू को फंसाने का प्लान तैयार किया. रात में परिजनों के सोने के बाद अजय और आशु ने अपनी 18 साल की बहन का गला घोंटकर हत्या कर दी और शव उसी के दुपट्टे से पंखे लटका दिया जिससे यह मामला आत्महत्या का लगे. 

  • 6/8

परिजनों ने जब सुबह लड़की पंखे से लटकते हुए शव देखा तो हर किसी के पैरों तले जमीन खिसक गई. अजय ने परिजनों को बताया कि रामू उसे काफी दिन से परेशान कर रहा था.  जिसकी वजह से उसने आत्महत्या जैसा कदम उठाया है. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और परिजनों के बयान के आधार पर छानबीन शुरू कर दी. लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने साफ कर दिया कि युवती ने आत्महत्या नहीं की बल्कि उसका गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को लटकाया गया था. 

  • 7/8

पुलिस ने  इस मामले की जांच शुरू कि तो पता चला कि रामू और अजय के बीच विवाद भी हुआ था.  पुलिस ने जब मृतका के भाई अजय को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो अजय ने सब कुछ सच-सच कबूल लिया. रामू को अपनी बहन की हत्या के मामले में फंसाने के लिए अजय अपने फुफेरे भाई आशु को अपने साथ मिलाया. 
 

  • 8/8

इस मामले पर सीओ अनूप सिंह का कहना है कि दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पोस्टमार्टम कराने के बाद लड़की के शव को परिजनों को सौंप दिया है. इसके अलावा मामले की अभी जांच जारी है. 

लेटेस्ट फोटो