क्राइम न्यूज़

झारखंडः प्रेमजाल में फंसाकर किया महिला का यौन शोषण, दारोगा के खिलाफ रेप की FIR दर्ज

अनूप सिन्हा
  • पूर्वी सिंहभूम,
  • 09 जुलाई 2021,
  • अपडेटेड 10:02 PM IST
  • 1/9

झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले में तैनात एक सब इंस्पेक्टर पर यौन शोषण का गंभीर आरोप लगा है. इल्जाम है कि उस दारोगा ने वर्दी की आड़ में एक शादीशुदा महिला को शांदी का झांसा देकर पहले प्रेमजाल में फंसा लिया और फिर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता रहा और फिर अचानक बिहार जाकर दूसरी लड़की से शादी कर ली. अब पीड़िता ने दारोगा के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

  • 2/9

आरोपी सब इंस्पेक्टर का नाम रवि रंजन कुमार है. वह पूर्वी सिंहभूम जिले के बिरसानगर थाने में तैनात है. बहरागोड़ा की एक महिला ने उसके खिलाफ महिला थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया कि एसआई रवि ने शादी का झांसा देकर उसका यौन शोषण किया. उसके साथ अप्राकृतिक यौनाचार भी किया. महिला के अनुसार आरोपी ने महिला को उसके पति से तलाक लेने के बाद शादी का झांसा भी दिया. 

  • 3/9

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि बिरसानगर थाना के आवासीय परिसर और एक अपार्टमेंट में उसने पीड़िता को डेढ़ माह तक अपनी पत्नी की तरह रखा और इस बीच जब वह गर्भवती हो गई तो उसका गर्भपात भी कराया. इसी दौरान महिला को पता चला कि दारोगा रवि रंजन कुमार 29 जून को गांव चले गए. जहां उसने दो जुलाई को शादी भी कर ली. महिला के मुताबिक दारोगा पहले बहरागोड़ा थाना में पदस्थापित था.

  • 4/9

जब महिला ने उस पर शादी का दबाव बनाया था. तो आरोपी एसआई ने एक कागज पर महिला को लिखकर दिया कि वह उसके साथ शादी करेगा. महिला जब बिरसानगर थाने रवि के पास गई. उसने शादी से इंकार कर दिया. बाद में लिखकर दिया कि तीन माह में शादी कर लेगा. लेकिन इसी बीच वो महिला को झांसा देकर अपने गांव चला गया. इससे पहले उसने महिला से तलाक की अर्जी भी दिलवा दी थी. 

  • 5/9

आरोपी एसआई रवि रंजन कुमार बिहार के समस्तीपुर का रहने वाला है. महिला से उसकी दोस्ती सोशल मीडिया पर हुई थी. इसके बाद आरोपी दारोगा रवि खुद बहरागोड़ा में महिला के घर पहुंच गया था. महिला पहले से शादीशुदा है. उसका एक चार साल का बेटा भी है. पति से मनमुटाव के कारण वह पति से अलग रहती है. सितंबर 2020 में बहरागोड़ा थाने में तैनाती के दौरान सब इंस्पेक्टर रवि रंजन कुमार से सोशल मीडिया पर उसकी दोस्ती हुई थी. दोनों एक-दूसरे से चैटिंग करते रहे.

  • 6/9

पीड़िता के अनुसार फिर दोनों के बीच मोबाइल पर बातचीत होने लगी. सितंबर 2020 में ही एक दिन सब इंस्पेक्टर महिला के घर पहुंचा और जबरन उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए. विरोध पर उसने महिला से शादी करने और उसे बी.एड में दाखिला दिलाने का झांसा दिया. एसआई रवि ने महिला का सारा खर्च उठाने की बात भी कही. इसके बाद रवि रंजन का तबादला 2 अक्टूबर 2020 को बिरसानगर थाना में हो गया. 
 

  • 7/9

जहां आरोपी ने पीड़िता को थाने के आवास में अपने साथ रखा. उस दौरान जब महिला गर्भवती हो गई तो उसने महिला का गर्भपात भी कराया. फिर आरोपी ने महिला पर पति से तलाक लेने का दबाव बनाया. दबाव में आकर महिला ने 12 दिसंबर 2020 को अपने पति से अलग रहने का एक हलफनामा भी बना दिया. साथ ही अदालत में तलाक की अर्जी भी लगाई. 

  • 8/9

महिला के मुताबिक एक दिन रवि रंजन कुमार उसे परसुडीह के गोलपहाड़ी मंदिर ले गया. जहां उसने महिला की मांग में सिंदूर भर दिया. इसके बाद वो महिला को बिरसानगर थाने के आवास में ले गया. वहां उसे सात-आठ दिन तक रखा. फिर बिरसानगर के मधु अपार्टमेंट में डेढ़ माह तक उसे पत्नी की तरह रखा. वो लगातार झांसा देकर महिला का यौन शोषण करता रहा. उसने महिला के साथ आप्रकृतिक यौनाचार भी किया. 

  • 9/9

इसी दौरान गर्भवती होने पर उसने महिला को दवा खिला दी और 15 फरवरी 2021 को उसका गर्भपात करा दिया. उसे अस्पताल में भी दाखिल कराया गया था. अब पीड़िता ने साकची महिला थाना में शिकायत दर्ज कराई है. जिस पर दारोगा रवि रंजन कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. अब मामले की जांच एक महिला पुलिस अधिकारी कर रही है. 

लेटेस्ट फोटो