क्राइम न्यूज़

MP: प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या, लाश को ठिकाने लगाने के लिए महिला ने किया गूगल सर्च

लोमेश कुमार गौर
  • हरदा ,
  • 20 जून 2021,
  • अपडेटेड 9:02 PM IST
  • 1/9

मध्य प्रदेश के हरदा जिले से एक खौफनाक घटना सामने आई है. जहां पर एक महिला ने अपनी प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर दी. इतना ही नहीं लाश को ठिकाने लगाने के लिए योजना को गूगल पर सर्च किया. पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि लॉकडाउन के दौरान प्रेमी से मिलने में पति बाधक बन रहा था.

  • 2/9

पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही इस मामले का खुलासा कर आरोपियों को न्यायालय में पेशकर जेल भेज दिया. पुलिस ने बताया कि मृतक के कत्ल की सूचना खुद उसी की पत्नी ने दी थी. लेकिन उसने खुद को अनजान बताया था. 

  • 3/9

जांच के दौरान पुलिस को मृतक की पत्नी पर शक हुआ और उसे सख्ती से पूछताछ की गई और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. इसके बाद पुलिस ने महिला और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया. 

  • 4/9

वहीं, इस मामले पर जानकारी देते हुए एसपी मनीष कुमार अग्रवाल ने बताया कि नेबहरदा में खेड़ीपुरा नई आबादी क्षेत्र में 18 जून को आमिर की हत्या हो गई थी. 24 घंटों में पुलिस ने हत्या का खुलासा कर दिया. एसपी ने बताया कि प्रेम प्रसंग के चलते महिला ने अपनी प्रेमी के साथ मिलकर इस हत्या कांड को अंजाम दिया. 

  • 5/9

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस साइबर सेल की मदद ली और परिवार के सभी सदस्यों को कॉल डिटेल निकलवाए. जिसमें पता चला कि आमिर की हत्या उसकी पत्नी तबस्सुम ने अपने प्रेमी इरफान के साथ मिलकर की. 

  • 6/9

आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गई हथौड़ी, खून से सने कपड़े, मोबाइल फोन, मृतक के हाथ पैर बांधने में इस्तेमाल किया गया दुपट्टा जब्त कर लिया है. एसपी ने बताया कि आरोपी इरफान हरदा नगर पालिका में राजस्व विभाग में पदस्थ है. 
 

  • 7/9

पुलिस की जांच में पता चला कि आरोपी आमिर पहले महाराष्ट्र में काम करता था. आर्थिक परेशानी से जूझ रही तबस्सुम को इरफान ने काफी मदद की. इसी वजह से दोनों में नजदीकियां बढ़ने लगीं. लॉकडाउन के बाद आमिर हरदा आकर रहने लगा. लेकिन मृतक तबस्सुम के पति को दोनों का मिलना जुलना पसंद नहीं था. इसी बात से परेशान होकर आमिर ने तबस्सुम के साथ मिलकर उसे खत्म करने का प्लान बनाया. पुलिस के अनुसार मृतक दमा का मरीज था और इसकी दवा लेता था. इसी कारण पत्नी ने दमा की दवा के साथ कुछ और दवा दे दी.  जिसके कारण वो बेहोश हो गया. 

(प्रतीकात्मक फोटो)

  • 8/9

इसके बाद इरफान घर आया और रात में तबस्सुम के साथ मिलकर घटना को अंजाम दे दिया. पुलिस के अनुसार इरफान और तबस्सुम ने आमिर के हाथ पैर दुपट्टे से बांधे और इरफान ने उसके सिर पर हथौड़ी से लगातार वार किया और उसकी जान चली गई. 

  • 9/9

इस घटना की सूचना मृतक की पत्नी ने दी और वो पुलिस को गुमराह करती रही. शुरुआत में पुलिस को लगा कि यह चोरी के मकसद से हुई है. लेकिन मौके पर कुछ सबूत मिलने पर पुलिस को महिला पर शक हुआ और उसकी कॉल डिटेल निकाली. फिर पुलिस को पता चला कि वो नगरपालिका कर्मचारी इरफान से सबसे ज्यादा बात करती थी. पुलिस ने उसकी मोबाइल की गूगल हिस्ट्री को खंगाला तो पुलिस हैरान रह गई. तबस्सुम ने गूगल पर सर्च किया कि हत्या के बाद लाश के हाथ-पैर कैसे बांधें और लाश को ठिकाने कैसे लगाएं. 

(प्रतीकात्मक फोटो)

लेटेस्ट फोटो