अहमदाबाद: कोरोना हॉस्पिटल में आग, 8 मरीजों की मौत, CM ने 3 दिन में मांगी रिपोर्ट

गुजरात के अहमदाबाद में गुरुवार तड़के कोविड-19 डेडिकेटेड हॉस्पिटल श्रेय अस्पताल में आग लग गई. इस हादसे में आठ कोरोना मरीजों की मौत हो गई है.

श्रेय हॉस्पिटल के बाहर मौजूद भीड़
गोपी घांघर
  • अहमदाबाद,
  • 06 अगस्त 2020,
  • अपडेटेड 9:55 AM IST

गुजरात के अहमदाबाद में गुरुवार तड़के बड़ा हादसा हुआ. शहर में स्थित श्रेय अस्पताल में आग लग गई. श्रेय अस्पातल को कोरोना के लिए डेडिकेड किया गया है. आग आईसीयू में लगी. देखते ही देखते आग ने खतरनाक रुख अख्तियार कर लिया और इसकी चपेट में आकर 8 कोरोना मरीजों की मौत हो गई, जबकि एक पैरा मेडिकल स्टाफ घायल हो गया.

श्रेय अस्पताल में सुबह 3 बजकर 15 मिनट पर आग लगी. 3 बजकर 22 मिनट पर दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची. दमकल की टीम ने 4 बजकर 20 मिनट पर आग पर काबू पाया. आग जब लगी उस समय आईसीयू में 10 कोरोना मरीज थे, जबकि पूरे हॉस्पिटल में 49 कोरोना मरीज थे. इसमें से आठ लोगों की मौत हो गई है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

मरने वालों में अरविंद भावसार, नवीनलाल शाह, लीलावती शाह, आयशाबेन तिरमीश, मनुभाई रामी, ज्योति सिंधी, नरेंद्र शाह और आरिफ मंसूर शामिल है. जान गंवाने वाले इन आठ लोगों का श्रेय अस्पताल में इलाज चल रहा था. फिलहाल, बाकी मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है. साथ ही जांच के लिए फॉरेंसिक विभाग की टीम पहुंच गई है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

इसके साथ ही स्थानीय प्रशासन और पुलिस विभाग की टीम भी श्रेय अस्पताल पहुंच गई है. आग लगने के पीछे की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है. कुछ लोगों का कहना है कि आईसीयू में शार्ट सर्किट हुआ और आग लग गई. हालांकि, फॉरेंसिक विभाग की टीम जांच करेगी कि आग कैसे लगी.

गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक, सीएम विजय रूपाणी ने अहमदाबाद के श्रेय अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच के आदेश दिए हैं. संगीता सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह विभाग) जांच का नेतृत्व करेंगी. सीएम ने 3 दिनों के भीतर रिपोर्ट देने का आदेश दिया है.

फिलहाल, श्रेय हॉस्पिटल को सील कर दिया गया है और एक ट्रस्टी को हिरासत में लिया गया है. ट्रस्टी का नाम भरत महंत है.

Read more!

RECOMMENDED