स्पाइसजेट के लिए गुड न्यूज, बेड़े में हो सकती है बोइंग 737 मैक्स की वापसी

2020 की शुरुआत में स्पाइसजेट में मैक्स की वापसी पर बात करते हुए कंपनी के सीईओ किरण कोटेश्वर ने आईएएनएस से कहा कि फिर से प्रमाणित होने के बाद विमान के संचालन के लिए एयरलाइन को 25 या उससे अधिक विमान मिल सकते हैं.

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर स्पाइसजेट का फोकस
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 14 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 9:36 PM IST

  • 2020 की शुरुआत में स्पाइसजेट में मैक्स की वापसी संभव
  • अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर एयरलाइंस स्पाइसजेट का फोकस 

स्पाइसजेट ने बोइंग 737 मैक्स एयरक्राफ्ट की संभावित शुरुआती वापसी के आधार पर अपनी अंतरराष्ट्रीय विस्तार योजनाओं को लेकर एक दांव खेला है. एयरलाइन के लिए 737 मैक्स का जो महत्व है, उसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह कम से कम अगले साल की शुरुआत तक किसी विमान को अपने बेड़े में शामिल नहीं करेगी.

स्पाइसजेट का बड़ा दांव

2020 की शुरुआत में स्पाइसजेट में मैक्स की वापसी पर बात करते हुए कंपनी के सीईओ किरण कोटेश्वर ने आईएएनएस से कहा कि फिर से प्रमाणित होने के बाद विमान के संचालन के लिए एयरलाइन को 25 या उससे अधिक विमान मिल सकते हैं.

कोटेश्वर ने कहा, 'हम तिमाही आधार पर क्षमता वृद्धि के बारे में विचार करते हैं. 2020 की शुरुआत में मैक्स की अनुमानित वापसी के साथ हमारे निपटान में 25 से अधिक विमान आएंगे.' एयरलाइन के पास 150 से अधिक ऑर्डर हैं.

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर फोकस

हाल ही में बोइंग ने कहा था कि वह एयरक्राफ्ट को फिर से उड़ान संचालन की अनुमति प्रमाणित कराने के लिए भारत के DGCA सहित वैश्विक एविएशन रेगुलेर्ट्स के साथ संपर्क में है. कोटेश्वर ने कहा, 'मैक्स की वापसी हमें संचालन की सुनिश्चितता प्रदान करने के साथ-साथ 737 एनजीएस पर हमारी निर्भरता को कम करने में मदद करेगी.'

उन्होंने कहा, 'इसके बंद हो जाने के चलते ना सिर्फ हमें आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा बल्कि इससे हमारी विकास और विस्तार की योजनाएं भी प्रभावित हुई हैं.'

Read more!

RECOMMENDED