बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, सेंसेक्‍स 38,940 के स्‍तर पर

मंगलवार को सेंसेक्‍स 238 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ जबकि निफ्टी में 68 अंक की तेजी रही.

सेंसेक्‍स 38,940 के स्‍तर पर
aajtak.in
  • मुंबई,
  • 09 अप्रैल 2019,
  • अपडेटेड 5:24 PM IST

शुरुआती फिसलन के बाद मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ. सप्‍ताह के दूसरे कारोबारी दिन सेंसेक्स 350 अंक ऊपर-नीचे होने के बाद अंत में 238.69 अंक या 0.62 फीसदी की बढ़त के साथ 38,939.22 अंक पर पहुंच गया. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 67.45 अंक या 0.58 फीसदी के लाभ से 11,671.95 अंक पर पहुंच गया. बता दें कि सोमवार को सेंसेक्स 161.70 अंक के नुकसान से अंत में 38,700.53 अंक पर बंद हुआ जबकि निफ्टी भी 61.45 अंक टूटकर 11,604.50 अंक पर रहा.

किस शेयर में सबसे ज्‍यादा तेजी

कारोबार के दौरान सबसे ज्‍यादा तेजी यस बैंक में रही. यस बैंक के शेयर 4.08 फीसदी चढ़ गए. इसके अलावा टाटा मोटर्स, बजाज ऑटो, कोल इंडिया, हीरो मोटोकॉर्प, एचसीएल टेक, वेदांता, सनफार्मा, एक्सिस बैंक, मारुति, आईटीसी, इंडसइंड बैंक, टीसीएस, हिंदुस्तान यूनिलीवर और एसबीआई में 2.67 फीसदी तक बढ़त दर्ज की गई. वहीं दूसरी ओर एशियन पेंट्स, इन्फोसिस, भारती एयरटेल, बजाज फाइनेंस और ओएनजीसी के शेयर 3.54 फीसदी तक टूट गए. इस बीच कारोबार में रुपया डॉलर के मुकाबले 6 पैसे गिरकर 69.73 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया.

क्‍या है बाजार में उतार-चढ़ाव की वजह

इस हफ्ते भारतीय शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है. दरअसल, इस हफ्ते देश की कई बड़ी कंपनियों के तिमाही नतीजे आने वाले हैं. इस वजह से भी शेयर बाजार में उतार- चढ़ाव देखने को मिल रहा है. बता दें कि देश की दो प्रमुख सॉफ्टवेयर निर्यातक कंपनियों टीसीएस और इन्फोसिस द्वारा शुक्रवार को तिमाही नतीजों की घोषणा की जाएगी. वहीं लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा. इसको लेकर भी बाजार में असर दिख सकता है.

सोना 235 रुपये सस्‍ता

मंगलवार को दिल्ली बुलियन मार्केट में सोना 235 रुपये की गिरावट के साथ 32,980 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया. औद्योगिक इकाइयों और सिक्का विनिर्माताओं के कमजोर उठाव के कारण चांदी कीमत भी 660 रुपये की नुकसान के साथ 38,010 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई.  बता दें कि सोमवार को सोने में 425 रुपये की तेजी आई थी. आठ ग्राम की गिन्नी के दाम 26,400 रुपये प्रति इकाई पर पूर्ववत कायम रहे. 

Read more!

RECOMMENDED