आखिरी कारोबारी दिन बढ़त के साथ बाजार बंद, सेंसेक्‍स 161 अंक मजबूत

सप्‍ताह के आखिरी कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार में बढ़त देखने को मिली है.

सेंसेक्‍स 161 अंक मजबूत
aajtak.in
  • मुंबई,
  • 12 अप्रैल 2019,
  • अपडेटेड 5:31 PM IST

एफएमसीजी, वाहन और बैंकिंग शेयरों में बढ़त की वजह से शुक्रवार को शेयर बाजार गुलजार रहा. सेंसेक्स कारोबार के दौरान 200 अंक तक चढ़ने के बाद अंत में 160.10 अंक या 0.41 फीसदी की बढ़त के साथ 38,767.11 अंक पर बंद हुआ. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 46.75 अंक या 0.40 फीसदी बढ़कर 11,643.45 अंक पर बंद हुआ.

दरअसल, वृहद आर्थिक आंकड़ों के अलावा कंपनियों के तिमाही नतीजों की उम्‍मीद से बाजार में तेजी का रुख रहा. दरअसल, कारोबार के दौरान आईटी कंपनी इन्फोसिस  का शेयर 0.63 फीसदी लाभ में रहा जबकि टीसीएस में 0.26 फीसदी की गिरावट आई. बता दें कि वित्तवर्ष 2018-19 में इन्फोसिस का एकीकृत शुद्ध लाभ वित्तवर्ष 2017-18 की तुलना में 3.9 फीसदी घटकर 15,410 करोड़ रुपये रहा है.  कंपनी की आय इस अवधि में 17.2 प्रतिशत बढ़कर 82,675 करोड़ रुपये रही.  

कारोबार के दौरान सेंसेक्स की कंपनियों में आईटीसी का शेयर सबसे अधिक 3.14 फीसदी बढ़ा है. मारुति सुजुकी, एक्सिस बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, वेदांता, एशियन पेंट्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, हिंदुस्तान यूनिलीवर, बजाज आटो और पावर ग्रिड के शेयर 2.13 फीसदी तक चढ़ गए. वहीं दूसरी ओर भारती एयरटेल, बजाज फाइनेंस, एलएंडटी, टाटा मोटर्स, इंडसइंड बैंक, टाटा स्टील, एचसीएल टेक और ओएनजीसी में 1.71 फीसदी तक का नुकसान रहा.

वेदांता रिसोर्सेज ने 1 अरब डॉलर जुटाए

वेदांता रिसोर्सेज ने बॉन्ड के जरिए एक अरब डॉलर जुटाए हैं और वह इस राशि का इस्तेमाल मुख्य रूप से कर्ज के भुगतान के लिए करेगी. कंपनी ने लंदन स्टॉक एक्सचेंज को इस संबंध में जानकारी दी है. कंपनी का लक्ष्य बॉन्ड की बिक्री से प्राप्त धन का इस्तेमाल मुख्य रूप से कंपनी के कर्ज का भुगतान करना है. वेदांता ने कहा कि दो हिस्सों में बेचे गए बॉन्ड में यूरोप, उत्तर कोरिया और एशिया के वैश्विक निवेशकों ने निवेश किया है.

Read more!

RECOMMENDED