PMC बैंक के ग्राहकों को मिलेगा पूरा पैसा, अमित शाह ने बताया फॉर्मूला

देश के गृह मंत्री अमित शाह का कहना है कि पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) बैंक के ग्राहकों को पूरा पैसा मिलेगा.

पीएमसी बैंक के ग्राहकों को गृह मंत्री का बड़ा भरोसा
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 14 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 12:23 AM IST

  • PMC बैंक के ग्राहकों का पैसा नहीं डूबेगा
  • गबन से ज्यादा की प्रॉपर्टी की जा चुकी है सीज
  • एक से दो महीने में ग्राहकों को मिल जाएगा पैसा

देश के गृह मंत्री अमित शाह का कहना है कि पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) बैंक के ग्राहकों को पूरा पैसा मिलेगा. 'आजतक' से खास बातचीत में अमित शाह ने कहा कि PMC बैंक में जो कुछ हुआ उसकी जांच चल रही है, और ग्राहकों को पूरा पैसा वापस किया जाएगा.

पीएमसी बैंक को लेकर सरकार सक्रिय

टीवी टुडे नेटवर्क के न्यूज डायरेक्टर राहुल कंवल के एक सवाल के जवाब में गृह मंत्री ने कहा कि PMC बैंक में 80 फीसदी तक एक लाख रुपये तक के डिपॉजिटर हैं. जिनके पैसे डिपॉजिटर इंश्योरेंस स्कीम एक्ट के तहत वापस किए जाएंगे.

वहीं एक लाख रुपये से ज्यादा डिपॉजिटर करीब 20 फीसदी हैं, इनके पैसे वापस करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा गबन के आरोपियों की संपत्ति सीज की जा चुकी है. इसलिए पीएमसी बैंक के ग्राहकों को पैसे लौटाने में किसी तरह तरह की कोई दिक्कत नहीं आएगी. उन्होंने कहा कि कानूनी प्रक्रिया के तहत एक से दो महीने में लोगों के पैसे मिल जाएंगे.

अमित शाह ने कहा कि जैसे ही पीएमसी बैंक का मामला सामने आया है. सरकार की ओर से प्रवर्तन निदेशालय को इसकी जांच सौंपी गई. जिसके बाद ED ने आरोपियों पर शिकंजा कसते हुए गबन से ज्यादा की प्रॉपर्टी जब्त कर ली है. 

क्या है पीएमसी बैंक का मामला

दरअसल पीएमसी बैंक के डूबने की खबरें फैलते ही लोग पैसे निकालने के लिए बैंक में उमड़ पड़े थे, जिससे अफरा-तफरी मच गई थी. पंजाब एंड महाराष्ट्र को ऑपरेटिव बैंक में ग्राहकों का 11500 करोड़ रुपया जमा है, बैंक की ब्रांच पंजाब, महाराष्ट्र, दिल्ली और गोवा में भी हैं.

पीएमसी बैंक की 137 शाखाएं हैं और यह देश के टॉप-10 को-ऑपरेटिव बैंकों में से एक है. आरोप के मुताबिक पीएमसी बैंक के मैनेजमेंट ने अपने नॉन परफॉर्मिंग एसेट और लोन वितरण के बारे में आरबीआई को गलत जानकारी दी है.

Read more!

RECOMMENDED