scorecardresearch
 

IPL 2021: आखिरी ओवर तक चला ड्रामा, KKR ने दिल्ली को हराया, ऐसे फाइनल में पहुंची कोलकाता

कोलकाता नाइट राइडर्स ने दिल्ली कैपिटल्स को हराकर IPL 2021 के फाइनल में जगह बना ली है. अब कोलकाता का मुकाबला महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स से होगा.

KKR Vs DC KKR Vs DC
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली को हराकर फाइनल में पहुंची कोलकाता
  • पूरी तरह से फेल रही दिल्ली की बैटिंग

KKR Vs DC: कोलकाता नाइट राइडर्स ने क्वालिफायर-2 में दिल्ली कैपिटल्स को 3 विकेट से मात देकर IPL 2021 के फाइनल में जगह बना ली है. अब आईपीएल का खिताब जीतने के लिए 15 अक्टूबर को चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स की भिड़ंत होगी.

क्वालिफायर-2 में आखिरी ओवर तक ड्रामा चलता रहा, कभी मैच कोलकाता के पाले में जाता दिखा तो कभी दिल्ली की गोद में, लेकिन अंत में KKR ने ही बाज़ी मार ली. ये तीसरी बार हुआ है जब कोलकाता की टीम फाइनल में पहुंची है. इससे पहले कोलकाता दो बार फाइनल में पहुंची थी और दोनों ही बार खिताब जीता था. (2012, 2014)

आखिरी ओवर की पूरी कहानी...

एक वक्त ऐसा था जब कोलकाता की जीत बिल्कुल आसान लग रही थी, लेकिन दिल्ली कैपिटल्स ने आखिरी में शानदार बॉलिंग की और यही वजह रही कि आखिरी ओवर तक मैच भी पहुंच पाया. कोलकाता को आखिरी ओवर में 7 रन चाहिए थे और बॉलिंग की जिम्मेदारी रविचंद्रन अश्विन के पास थी. पूरे सीजन में खराब फॉर्म में चल रहे अश्विन ने यहां शानदार बॉलिंग की और दो विकेट निकाल लिए. लेकिन अंत में राहुल त्रिपाठी ने छक्का लगाया और अपनी टीम को जिता दिया. 

अश्विन का वो आखिरी ओवर- 

19.1 ओवर: एक रन
19.2 ओवर: कोई रन नहीं
19.3 ओवर: शाकिब अल हसन आउट
19.4 ओवर: सुनील नरेन आउट
19.5 ओवर: राहुल त्रिपाठी का विजयी छक्का

 

 

अय्यर और शुभमन गिल की जोड़ी का कमाल

दिल्ली की खराब बल्लेबाजी से इतर कोलकाता के बल्लेबाजों ने कमाल किया, शुभमन गिल और वेंकटेश अय्यर एक बार फिर कमाल कर गए. दोनों के बीच 96 रनों की ओपनिंग पार्टनरशिप हुई, वेंकटेश अय्यर ने 41 बॉल में 55 रनों की पारी खेली. वेंकटेश का इस आईपीएल में ये तीसरा अर्धशतक था. शुभमन गिल ने भी कम स्कोर वाले मैच में एंकर की भूमिका निभाई और अंत तक मैच को ले गए. 

बल्लेबाजी में फेल हुई दिल्ली की टीम

बुधवार को खेले गए क्वालिफायर-2 में कोलकाता ने टॉस जीतकर बॉलिंग चुनी थी और दिल्ली को बल्लेबाजी का न्योता दिया था. कोलकाता ये फैसला सही साबित हुआ और दिल्ली की बल्लेबाजी बुरी तरह से लड़खड़ा गई. दिल्ली को अच्छी शुरुआत जरूर मिली, पृथ्वी और धवन की जोड़ी ने जो शुरुआत दी उसका फायदा वह खुद और उनके बाद आने वाले बल्लेबाज़ नहीं उठा पाए.

दिल्ली की ओर से श्रेयस अय्यर, मार्कस स्टोइनस को शुरुआत मिली, लेकिन वह तेज़ बल्लेबाजी नहीं कर पाए. अंत में शिमरॉन हेटमायर ने ज़रूर तेज़ी से रन बनाए लेकिन वो भी आउट हो गए और इसी तरह दिल्ली कैपिटल्स की टीम 135 रनों तक पहुंच पाई. दिल्ली की बल्लेबाजी कैसी रही, इसका अंदाजा इससे भी लगाया जा सकता है कि टीम ने कुल 45 डॉट बॉल खेलीं.  

तीसरी बार फाइनल में पहुंची है कोलकाता

कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम तीसरी बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है. इससे पहले साल 2012, 2014 में कोलकाता ने फाइनल में जगह बनाई थी और खास बात ये है कि दोनों ही बार कोलकाता चैम्रियन बनी थी. अब जब एक बार फिर 2021 में केकेआर फाइनल में पहुंची है, तब हर किसी की नज़र इसपर है कि क्या इस बार भी खिताब पर कब्जा जमा पाएगी. 

फिर चूक गई दिल्ली कैपिटल्स की टीम

युवा कप्तान ऋषभ पंत की अगुवाई में दिल्ली की टीम क्वालिफायर-2 तक का ही सफर तय कर पाई. दिल्ली ने पूरे सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन किया और प्वाइंट टेबल में टॉप पर बनी रही. लेकिन बड़े मुकाबलों में एक बार फिर दिल्ली की टीम फेल हो गई. पहले क्वालिफायर-1 में चेन्नई सुपर किंग्स के हाथों हार हुई और अब कोलकाता के हाथों हार हुई है. पिछले सीजन में भी दिल्ली ने फाइनल में जगह बनाई थी लेकिन हार गई थी. 


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें