scorecardresearch
 

जिम्बाब्वे के इस दिग्गज बल्लेबाज ने किया संन्यास का ऐलान, 17 साल का रहा करियर

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. ब्रेंडन टेलर जिम्बाब्वे के दिग्गजों बल्लेबाजों में शुमार हैं.

Brendon Taylor (Photo-Getty Images) Brendon Taylor (Photo-Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ब्रेंडन टेलर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान किया
  • टेलर ने 2004 में इंटरनेशनल क्रिकेट में किया था डेब्यू

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. ब्रेंडन टेलर जिम्बाब्वे के दिग्गजों बल्लेबाजों में शुमार हैं. टेलर ने 2004 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था. अपने 17 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर को उन्होंने विराम देने का फैसला किया है. टेलर ने संन्यास लेने की जानकारी ट्वीट करके दी. 

वह आज यानी सोमवार को आयरलैंड के खिलाफ होने वाले मैच में आखिरी बार इंटरनेशनल क्रिकेट में मैदान पर उतरेंगे. टेलर ने ट्विटर पर एक तस्वीर के साथ अपना बयान शेयर किया है. 

उन्होंने लिखा, 'भारी मन से मैं यह घोषणा कर रहा हूं कि कल(13 सितंबर) मेरे प्यारे देश के लिए मेरा आखिरी मैच है. 17 साल के उच्च और अत्यधिक उतार-चढ़ाव देखने के बाद भी मैं इसे दुनिया के लिए नहीं बदलूंगा. इसने मुझे विनम्र होना सिखाया है, हमेशा खुद को याद दिलाना कि मैं कितना भाग्यशाली था कि मैं इतने लंबे समय तक जिस स्थिति में था, उस पर रहा. शान से टीम का बैज पहनना और सब कुछ मैदान पर किया.'

टेलर ने आगे लिखा कि मेरा लक्ष्य हमेशा टीम को बेहतर स्थिति में छोड़ना था, क्योंकि जब मैं पहली बार 2004 में टीम में आया था तो मुझे उम्मीद है कि मैंने ऐसा किया है. मैं दुनिया भर में मिली दोस्ती के लिए बहुत आभारी हूं, आप हमेशा मेरे साथ रहेंगे और मुझे उम्मीद है कि निकट भविष्य में फिर से रास्ते पार करेंगे. जिम्बाब्वे क्रिकेट को, अवसर के देने लिए धन्यवाद और मुझे आशा है कि मैंने अपने देश को किसी न किसी रूप में गौरवान्वित किया है. 

टेलर ने अपनी टीम के साथी कोच और परिवार वालों को भी धन्यवाद करते हुए कहा, 'मेरे टीम के साथियों और कोचों (अतीत और वर्तमान) को मैं तहे दिल से धन्यवाद देता हूं. मैं आप सभी को कभी नहीं भूलूंगा. प्रशंसकों के लिए जो वर्षों से मेरे प्रति इतने वफादार रहे हैं. मैं सदा आभारी हूं. घर पर मेरे दोस्तों के लिए, मेरे माता-पिता डेबी वेकफील्ड टेलर मेरी सास गेल मेयर रीडिंग्स और मेरे सबसे अच्छे साथी मेरे दो भाई हैं, जो ग्रांट टेलर और कीगन टेलर के हर कदम पर मेरे साथ रहे हैं. बहुत - बहुत धन्यवाद. अंत में मेरी पत्नी केलीन टेलर और हमारे चार खूबसूरत लड़कों को. आपने इस यात्रा में मेरे लिए सब कुछ मायने रखा है और यह आपके बिना संभव नहीं होता. मैं अपने अगले अध्याय की प्रतीक्षा कर रहा हूं. मैं आप सभी से बहुत प्यार करता हूं.'

ऐसा रहा टेलर का करियर

टेलर ने जिम्बाब्वे के लिए 34 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 36.25 की औसत से 2320 रन बनाए. उनके नाम 6 शतक और 12 अर्धशतक दर्ज है. वनडे में टेलर ने 204 मैच खेले और 35.70 की औसत से 6677 रन बनाए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×