scorecardresearch
 

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर डीन जोन्स नहीं रहे, मुबंई में हार्ट अटैक से निधन

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी और कमेंटेटर डीन जोन्स नहीं रहे. जोन्स का दिल का दौरा पड़ने के कारण निधन हो गया. मुंबई में वह कमेंट्री के लिए आए थे.

Dean Jones died of a cardiac arrest in Mumbai (Getty) Dean Jones died of a cardiac arrest in Mumbai (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डीन जोन्स स्टार स्पोर्ट्स की कमेंट्री टीम का हिस्सा थे
  • मुंबई के सात सितारा होटल में बायो बबल में रह रहे थे
  • जोन्स ने 52 टेस्ट और 164 वनडे में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया था

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट दिग्गज डीन जोन्स का दिल का दौरा पड़ने से मुंबई में गुरुवार को निधन हो गया. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के प्रसारणकर्ता स्टार स्पोर्ट्स ने इसकी पुष्टि की है. जोन्स स्टार स्पोर्ट्स की कमेंट्री टीम का हिस्सा थे और मुंबई के सात सितारा होटल में बायो बबल (जैव-सुरक्षित माहौल) में रह रहे थे. वह 59 वर्ष के थे. 

डीन जोन्स सक्रिय क्रिकेट विश्लेषक थे. उन्हें यूएई में चल रही इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2020 के दौरान ऑफ-ट्यूब कमेंट्री के लिए अनुबंधित किया गया था.

जोन्स भारतीय मीडिया में लोकप्रिय रहे. उनके कई शो बेहद मशहूर रहे थे. वह अपने सटीक विचारों के लिए जाने जाते थे. उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर (1984-1994) 10 साल का रहा.

डीन जोन्स ने 52 टेस्ट और 164 वनडे में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया था. उन्होंने टेस्ट मैचों में 46.55 की औसत से 3631 रन बनाए थे, जिसमें उनके 11 शतक और 14 अर्धशतक शामिल रहे. वनडे इंटरनेशनल में उन्होंने 44.61 के एवरेज से 6068 रन बनाए. उन्होंने 7 शतकों के अलावा 46 अर्धशतक जड़े थे.

24 मार्च 1961 को विक्टोरिया में पैदा हुए जोन्स ने 245 प्रथम श्रेणी क्रिकेट (1981/82-1997/98) मुकाबले खेले. उन्होंने 51.85 की औसत से 19188 रन बनाए. जोन्स ने इस दौरान 55 शतक और 88 अर्धशतक जमाए.   

डीन जोंस को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 1986 में चेन्नई में खेले गए बेहद चर्चित टाई टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने के लिए याद किया जाता है. टेस्ट इतिहास का यह महज दूसरा टेस्ट था, जो टाई रहा. उसे टेस्ट की पहली पारी में जोन्स ने 210 रन बनाए थे. उन्होंने अपने करियर में एक और दोहरा शतक जड़ा था, जब वह वेस्टइंडीज के खिलाफ 1989 के एडिलेड टेस्ट में 216 रन बनाकर रन आउट हो गए थे.

जोंस ऑस्ट्रेलिया की 1987 विश्व कप विजेता टीम का भी हिस्सा थे. 1997-98 में क्रिकेट के सभी रूपों से संन्यास लेने के बाद वह कमेंट्री के क्षेत्र में उतर आए थे. 

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने डीन जोन्स के निधन पर गहरा शोक जताया है. उन्होंने ट्वीट किया- दिल दहला देने वाली खबर... ऑस्ट्रेलिया के मेरे पहले दौरे के दौरान उनके खिलाफ खेलने का अवसर मिला था. उनकी आत्मा को शांति मिले. उनके प्रियजनों को मेरी संवेदनाएं.

स्टार स्पोर्ट्स ने विज्ञप्ति में कहा, ‘बेहद दुख के साथ हम डीन मर्विन जोन्स के निधन की खबर साझा कर रहे हैं. दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया. हम उनके परिवार के प्रति संवेदना जाहिर करते हैं.'

विज्ञप्ति में कहा गया, ‘जोन्स खेल के महान दूतों में से एक थे और वह दक्षिण एशिया में क्रिकेट के विकास से जुड़े रहे. वह नई प्रतिभा को खोजने और युवा क्रिकेटरों को तराशने को लेकर जुनूनी थे.’

प्रसारणकर्ता ने कहा, ‘वह चैम्पियन कमेंटेटर थे, जिनकी मौजूदगी और खेल को पेश करने का तरीका हमेशा प्रशंसकों को खुशी देता था. स्टार और दुनियाभर में उनके लाखों प्रशंसकों को उनकी कमी खलेगी. हमारी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं उनके परिवार और मित्रों के साथ हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें