scorecardresearch
 

'PM को मारने की हो रही है साजिश', एक कॉल से हिली पुणे पुलिस

पुणे पुलिस कंट्रोल रूम एक कॉल आई और सामने वाले शख्स ने कहा कि 'प्रधानमंत्री को मारने की साजिश फ्लैट में रची जा रही है'. इसके बाद पुणे पुलिस कंट्रोल रूम में कथित तौर पर फर्जी कॉल करने के आरोप में 38 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. पुलिस का कहना कि आरोपी अवसाद से पीड़ित था.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

'प्रधानमंत्री को मारने की साजिश फ्लैट में रची जा रही है'... पुणे पुलिस कंट्रोल रूम एक कॉल आई और सामने वाले शख्स ने जैसे ही यह लाईन बोली तो हड़कंप मच गया. शख्स ने पीएम को मारने की साजिश के साथ ही पुणे और मुंबई रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की साजिश के बारे में बताया. इस धमकी के मिले ही पुणे पुलिस हरकत में आ गई.

इसके बाद पुणे पुलिस कंट्रोल रूम में कथित तौर पर फर्जी कॉल करने के आरोप में 38 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. पुलिस का कहना कि आरोपी अवसाद से पीड़ित था और अपने ऊपर के फ्लैट से बच्चों द्वारा किए जा रहे शोर से परेशान था, आरोपी पिंपरी चिंचवाड़ नगर निगम सीमा के देहू रोड इलाके में रहता है.

पुलिस अधिकारी ने कहा कि 4 अक्टूबर को उसने आपातकालीन नंबर 112 पर कॉल किया और अपने ऊपर के फ्लैट में रहने वालों को सबक सिखाने की तरकीब निकाली. आरोप मनोज हंसे ने पुलिस को बताया कि मेरे ऊपर वाले फ्लैट में पीएम मोदी को मारने के साथ ही पुणे और मुंबई रेलवे स्टेशनों पर बम विस्फोट करने की योजना बनाई जा रही थी.

इसके बाद पुलिस फ्लैट में पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी. पुलिस की जांच से पता चला कि यह एक फर्जी कॉल थी. उन्होंने कहा कि आरोपी अवसाद की स्थिति में था और अपने ऊपर के फ्लैट से आने वाले शोर से नाराज था, आरोपी का पुलिस पार्टी के साथ भी विवाद था. इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

पुणे पुलिस अधिकारियों का कहना है कि हमने आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 177 (झूठी जानकारी देना), 353 (लोक सेवक को उसके कर्तव्य के निर्वहन से रोकने के लिए हमला या आपराधिक बल) और 504 (जानबूझकर अपमान करना) के तहत केस दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर लिया है.

 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें