scorecardresearch
 

10 साल पहले गुजरात में PM मोदी ने निकाली थी संविधान यात्रा, साझा की पुरानी तस्वीरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए 2010 की तस्वीरें साझा की. जब गुजरात के सीएम के रूप में नरेंद्र मोदी ने संविधान दिवस पर एक यात्रा की अगुवाई की थी.

पीएम मोदी ने साझा की पुरानी तस्वीर पीएम मोदी ने साझा की पुरानी तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • संविधान दिवस पर पीएम मोदी का खास ट्वीट
  • 10 साल पुरानी तस्वीरें की साझा
  • गुजरात सीएम रहते हुए निकाली थी यात्रा

संविधान दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी कुछ पुरानी तस्वीरें साझा की हैं. ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2010 की तस्वीर साझा करते हुए कहा कि जब संविधान को 60 साल पूरे हुए थे, तब बतौर गुजरात के मुख्यमंत्री उन्होंने राज्य में इसपर बड़ा कार्यक्रम किया था.

पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘2010 में जब संविधान को 60 साल पूरे हुए थे, तब गुजरात के सुरेंद्र नगर में बड़ी संविधान गौरव यात्रा आयोजित की गई थी. हाथी पर संविधान की एक प्रति को रखकर पूरे शहर में यात्रा निकाली गई थी, मैंने भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया था. वो एक शानदार श्रद्धांजलि थी.’


पीएम मोदी अपने ट्वीट के साथ जिन तस्वीरों को साझा किया, उसमें हाथी पर संविधान की प्रति रखी है और पीछे बड़ा हुजूम चल रहा है. पीएम मोदी भी इसी के साथ पैदल चल रहे हैं और यात्रा की अगुवाई कर रहे हैं.

पीएम मोदी ने इसी के साथ एक और ट्वीट किया, उन्होंने लिखा कि 2015 में केंद्र सरकार ने 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाने का तय किया. तभी से लोग इस दिन को शानदार तरीके से मना रहे हैं. संविधान बनाने वाले लोगों के प्रति हम आभार व्यक्त करते हैं और उनके सपनों का भारत बनाने का वादा करते हैं.


आपको बता दें कि गुरुवार को भी गुजरात के केवड़िया में संविधान दिवस के मौके पर बड़ा कार्यक्रम हुआ. पीएम नरेंद्र मोदी ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा कि देश के लोगों को संविधान को जानना चाहिए और उसे समझना चाहिए, ताकि हम सभी कर्तव्यों का पालन कर सकें. 

देखें: आजतक LIVE TV

इसी के साथ पीएम मोदी ने सुझाव दिया कि जब संसद या विधानसभा में किसी विशेष विषय पर चर्चा हो रही हो, तो उस विषय से जुड़े लोगों को सदन में बुलाना चाहिए. केवड़िया में संविधान दिवस के मौके पर पिछले दो दिनों से इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा था. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें