scorecardresearch
 

LIVE: दिल्ली में बेकाबू कोरोना, 24 घण्टे में आए 27,047 केस, 375 मरीजों की मौत

दिल्ली इस वक्त ऑक्सीजन की भारी किल्लत से जूझ रही है. कई अस्पतालों में कुछ घंटों का ऑक्सीजन स्टॉक है, जबकि कुछ जगह पर अंतिम वक्त में ऑक्सीजन पहुंचा है. दिल्ली के गंगाराम अस्पताल और मैक्स अस्पताल में शुक्रवार सुबह सप्लाई पहुंची.

दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर भरवाने के लिए लगी कतार (फोटो: PTI) दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर भरवाने के लिए लगी कतार (फोटो: PTI)
3:35
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन का संकट जारी
  • मैक्स, गंगाराम अस्पताल में शुक्रवार सुबह पहुंचा स्टॉक

देश की राजधानी दिल्ली इस वक्त ऑक्सीजन की भारी किल्लत से जूझ रही है. कई अस्पतालों में कुछ घंटों का ऑक्सीजन स्टॉक है, जबकि कुछ जगह पर अंतिम वक्त में ऑक्सीजन पहुंचा है. दिल्ली के कई अस्पतालों द्वारा सरकार के सामने जल्द से जल्द ऑक्सीजन पहुंचाने की गुहार लगाई जा रही है.  बता दें कि दिल्ली में 24 घंटे में 27,047 केस आए वहीं 375 मरीजों की मौत हो जाने की खबर है. जिसके बाद कोरोना से मौत का कुल आंकड़ा, 16,147 पहुंच गया है. जानकारी के मुताबिक दिल्ली में संक्रमण दर 32.69 फीसदी हुई.  वहीं होम आइसोलेशन में 51,616 मरीज हैं. 

दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में ऑक्सीजन की भारी किल्लत है. अस्पताल ने बताया है कि एक घंटे से भी कम का ऑक्सीजन बचा है. अस्पताल प्रशासन ने कहा कि हमारे पास सिर्फ आधे घंटे से 45 मिनट का स्टॉक बचा है. वर्तमान में सर गंगाराम अस्पताल में 900 क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन मौजूद है. हालांकि शुक्रवार रात 10.30 के करीब गंगाराम अस्पताल में ऑक्सीजन टैंकर पहुंच गया है.  


ऐसे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर केंद्र सरकार को घेरते हुए ट्वीट किया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि कोविड की दूसरी लहर का चौथा सप्ताह, 2 लाख से ज़्यादा मृतक, जवाबदेही ज़ीरो, कर दिया सिस्टम ने ‘आत्मनिर्भर’!


वहीं गृह मंत्रालय ने कोविड सिचुएशन को लेकर हालात का जाएजा लिया. इसके साथ ही राज्यों को ऑक्सीजन ट्रांसपोर्टेशन को सुरक्षा देने की मांग की है. जिससे कि उसे रास्ते में कहीं रोका ना जाए. इस बारे में गृह मंत्रालय ने राज्यों को खत भी लिखा है. उन्होंने कहा है कि ऑक्सीजन गाड़ियों को एंबुलेंस तरह की सुविधा दी जाए. इसके साथ ही मंत्रालय अन्य देशों (सिंगापुर और संयुक्त अरब अमीरात) से भी हाई कैपेसिटी टैंकर्स उठाने पर विचार कर रहा है. इसके लिए इंडियन एयर फोर्स की मदद ली जाएगी. 

 

इससे पहले इंडियन स्पाइलन इंजुरीज सेंटर (ISIC), वसंत कुंज ने ट्वीट करते हुए लिखा कि हमारे पास 160 कोविड मरीज हैं. जबकि हमारे पास सिर्फ एक घंटे का ऑक्सीजन स्टॉक बचा है. हमलोग गुरुवार रात से ऑक्सीजन सप्लाई का इंतजार कर रहे हैं. लेकिन अब तक कुछ नहीं हो सका है.  जितनी जल्दी हो सके हमारी मदद कीजिए.  

दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल का कहना है कि पिछले 24 घंटे में उनके अस्पताल में 25 गंभीर मरीजों की मौत हो गई है. हमारे पास कुछ घंटों का ऑक्सीजन बचा है. वेंटिलेटर भी सही काम नहीं कर रहे हैं. हमें तुरंत एयरलिफ्ट की मदद से ऑक्सीजन चाहिए, क्योंकि अन्य 60 मरीजों की जान खतरे में हैं. सुबह करीब दस बजे गंगाराम अस्पताल को भी ऑक्सीजन की सप्लाई मिल गई.

रेलवे सीआरबी ने बताया कि दिल्ली ने भी ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन की रिक्वेस्ट भेजी है. दिल्ली ने राउरकेला और ओडिशा के कुछ प्लांट से ऑक्सीजन लाने की बात कही है. हमलोग दिल्ली के साथ क्लोजली कॉर्डिनेट कर रहे हैं. इसके अलावा आंध्र प्रदेश ने विजयवाड़ा से हंगुल के लिए टैंकर पहुंचाने को कहा है. इसके अलावा उत्तर प्रदेश ने भी कई मांगे रखी हैं.

शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने पीएम मोदी को एक पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने रेल मंत्री के खिलाफ जांच बिठाने की मांग की है. उनका आरोप है कि मुंबई के लिए विशाखापतनम से ऑक्सीजन लाने वाली रेल को वापस लौटने में देरी हुई. इसी आरोप को लेकर सांसद ने रेल मंत्री के खिलाफ जांच कराने की मांग की है. 

मैक्स ने की थी ऑक्सीजन की किल्लत की शिकायत
दिल्ली के ही मैक्स अस्पताल द्वारा शुक्रवार सुबह ही ट्वीट कर जानकारी दी गई कि उनके अस्पताल में ऑक्सीजन की किल्लत है. ट्वीट में कहा गया कि मैक्स स्मार्ट अस्पताल, मैक्स अस्पताल साकेत में कुछ घंटों का ऑक्सीजन बचा है, ऐसे में तुरंत ही सप्लाई की जरूरत है. 

हालांकि, सुबह दस बजे के करीब मैक्स साकेत अस्पताल को ऑक्सीजन की सप्लाई मुहैया कराई गई. अभी मैक्स के पास तीन घंटे की ऑक्सीजन सप्लाई पहुंच गई है. डीसीपी साउथ दिल्ली का कहना है कि मैक्स को ऑक्सीजन मिल गया है, एक और वाहन ऑक्सीजन लेकर जल्द पहुंच रहा है. 

मैक्स का कहना है कि उन्हें 2 MT ऑक्सीजन मिल गया है. जो दो अलग-अलग अस्पतालों में इस्तेमाल हो रहा है. दोनों अस्पतालों में कुल मरीजों की संख्या 700 हैं, इनमें से 550 कोविड मरीज हैं. 

आपको बता दें कि दिल्ली के कई अस्पतालों में बीते दिनों से ही ऑक्सीजन का संकट है. दिल्ली सरकार ने केंद्र से गुहार लगाई है, केंद्र ने कोटा भी बढ़ा दिया है. लेकिन हालात बदतर ही होते जा रहे हैं, क्योंकि ऑक्सीजन सप्लाई में भी वक्त लग रहा है. दिल्ली के कुछ अस्पतालों को ऑक्सीजन सप्लाई की मांग के लिए हाईकोर्ट का रुख करना पड़ा. 

दिल्ली में कोरोना का हाल
बीते 24 घंटे में आए केस: 26,169 
बीते 24 घंटे में हुई मौतें: 306
कुल एक्टिव केस: 91,618
कुल केस: 9,56,348
कुल मौतें: 13,193 

 

  • क्या ऑक्सीजन की किल्लत सरकारी कुप्रबंधन का नतीजा है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×