scorecardresearch
 

भाकपा माओवादी ने नक्सली लीडर बसवराजू को बनाया अपना महासचिव

25 साल बाद भाकपा माओवादी का महासचिव का चेहरा बदल गया है. अब बसवराजू के हाथों में कमान होगी. भाकपा माओवादी ने कई भाषाओं में विज्ञप्ति जारी किया.

फाइल फोटो फाइल फोटो

नक्सलियों ने अपने महासचिव के चेहरे में बदलाव किया है. दरअसल, भाकपा माओवादी के महासचिव गणपति ने खुद जिम्मेदारियों से हटने का फैसला करते हुए बसवराजू को नया महासचिव बनाने का प्रस्ताव रखा था, जिसे केंद्रीय कमेटी ने स्वीकार कर लिया है.

लंबे समय से ये कयास लगाए जा रहे थे कि बसवराजू को महासचिव बनाया जा सकता है. अब केंद्रीय कमेटी के प्रवक्ता अभय ने प्रेस नोट जारी कर इस बात की सूचना दी है. यह फैसला सीपीआई माओवादी की केंद्रीय कमेटी की पांचवीं बैठक में लिया गया.

कौन है बसवराजू?

बसवराजू आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के जियन्नापेटा गांव का रहने वाला है. बसवराजू 27 सालों से नक्सली संगठन की केंद्रीय कमेटी के सदस्य हैं. नक्सल संगठन के प्रवक्ता के अनुसार बसवराजू ने 18 सालों से पोलित ब्यूरो सदस्य के तौर पर सक्रिय थे.

वारंगल से इंजीनियरिंग में स्नातक बसवराजू को 1980 में एक बार छात्र संगठनों के झगड़े में गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद से बसवराजू की पुलिस के पास कोई नई फोटो नहीं है. बसवराजू के खिलाफ छत्तीसगढ़ सहित कई अन्य राज्यों में 1.57 करोड़ रुपए का इनाम है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें