scorecardresearch
 

Happy Pongal: हेमा मालिनी ने फैमिली संग सेलिब्रेट किया पोंगल, खुद बनाई खीर

तांबे की डेगची में हेमा मालिनी गुड़ की खीर बनाती नजर आ रही हैं. फोटोज के साथ कैप्शन में लिखा, "आज मैंने परिवार के साथ पोंगल का त्योहार मनाया. देखिए, मैं आज घर पर पोंगल बना रही हूं." हेमा मालिनी की इन फोटोज को फैन्स और फॉलोअर्स काफी पसंद कर रहे हैं.

हेमा मालिनी हेमा मालिनी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हेमा मालिनी ने मनाया पोंगल
  • किचन में बनाई गुड़ की खीर

Pongal 2022: पोंगल चार दिन तक चलने वाला तमिलनाडु का प्रमुख त्योहार है. यहां के लोग इस पर्व को नए साल के रूप में मनाते हैं. यह त्योहार तमिल महीने 'तइ' की पहली तारीख से शुरू होता है. इस त्योहार में इंद्र देव और सूर्य की उपासना की जाती है. बॉलीवुड एक्ट्रेस हेमा मालिनी ने इस साल त्योहार की शुरुआत परिवार के साथ की. किचन में खीर बनाते हुए की हेमा मालिनी ने कुछ फोटोज शेयर कीं. पिंक और गोल्डन साड़ी में हेमा मालिनी हमेशा की तरह बेहद खूबसूरत नजर आईं. 

हेमा मालिनी ने परिवार संग मनाया पोंगल
तांबे की डेगची में हेमा मालिनी गुड़ की खीर बनाती नजर आ रही हैं. फोटोज के साथ कैप्शन में लिखा, "आज मैंने परिवार के साथ पोंगल का त्योहार मनाया. देखिए, मैं आज घर पर पोंगल बना रही हूं." हेमा मालिनी की इन फोटोज को फैन्स और फॉलोअर्स काफी पसंद कर रहे हैं. बता दें कि पोंगल का त्योहार संपन्नता को समर्पित है. पोंगल में समृद्धि के लिए वर्षा, धूप और कृषि से संबंधित चीजों की पूजा अर्चना की जाती है. 

पोंगल के त्योहार पर मुख्य तौर पर सूर्य की पूजा की जाती है. सूर्य को जो प्रसाद अर्पित किया जाता है, उसे पगल कहते हैं. पोंगल के पहले दिन लोग सुबह उठकर स्नान करके नए कपड़े पहनते हैं और नए बर्तन में दूध, चावल, काजू, गुड़ आदि चीजों की मदद से पोंगल नाम का भोजन बनाया जाता है. इस दिन गायों और बैलों की भी पूजा की जाती है. किसान इस दिन अपनी बैलों को स्नान कराकर उन्हें सजाते हैं. इस दिन घर में मौजूद खराब वस्तुओं और चीजों को भी जलाया जाता है और नई वस्तुओं को घर लाया जाता है. 

चेन्नई में है 'थलाइवा' का आलीशान बंगला, देखें रजनीकांत के घर की Inside Photos

चार दिनों तक चलने वाले इस त्योहार के पहले दिन को 'भोगी पोंगल' कहते हैं, दूसरे दिन को 'सूर्य पोंगल', तीसरे दिन को 'मट्टू पोंगल' और चौथे दिन को 'कन्नम पोंगल' कहते हैं. पोंगल के हर दिन अलग-अलग परंपराओं और रीति-रिवाजों का पालन किया जाता है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×