scorecardresearch
 

पंजाब: बीजेपी को ऑफर, कांग्रेस को झटका, सिद्धू पर हमला...कैप्टन के तीन ट्वीट में तीन बड़ी बातें

पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे के बाद अब कैप्टन अमरिंदर सिंह अब कांग्रेस से भी अलग होने जा रहे हैं. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नई राजनीतिक पार्टी बनाने का ऐलान किया है.

कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो-PTI) कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कैप्टन ने किया नई पार्टी बनाने का ऐलान
  • बीजेपी से गठबंधन का ऑफर भी दिया

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों (Punjab Assembly Election 2022) से पहले पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने एक बड़ा धमाका कर दिया है. एक महीने पहले ही मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले कैप्टन ने अब कांग्रेस से अलग होने का औपचारिक ऐलान भी कर दिया. उन्होंने मंगलवार को नई पार्टी बनाने का ऐलान किया. कैप्टन के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकरान ने कैप्टन के हवाले से तीन ट्वीट किए. इन ट्वीट के जरिए कैप्टन ने सिद्धू पर हमला भी किया, कांग्रेस को झटका भी दिया और बीजेपी को ऑफर भी किया.

पहला ट्वीटः कांग्रेस को झटका

पहले ट्वीट में कैप्टन ने लिखा, 'पंजाब के भविष्य की लड़ाई जारी है. मैं जल्द ही अपनी राजनीतिक पार्टी का ऐलान करूंगा जो पंजाब, उसके लोगों और किसानों के हितों के लिए काम करेगी जो एक साल से भी ज्यादा समय से अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रहे हैं.'

- कांग्रेस के लिए झटका क्योंः कैप्टन अमरिंदर ने कांग्रेस से अलग होने का ऐलान कर दिया है और नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है. कैप्टन के जाने से पंजाब में कांग्रेस को नुकसान हो सकता है.

दूसरा ट्वीटः बीजेपी को ऑफर

दूसरे ट्वीट में कैप्टन अमरिंदर ने बीजेपी के साथ गठबंधन की ओर इशारा भी किया. कैप्टन ने कहा, 'अगर किसानों के हित में किसान आंदोलन का हल निकाला जाता है तो 2022 में पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए सिटिंग अरेंजमेंट को लेकर उम्मीद की जा सकती है. इसके साथ ही अकाली दल से अलग हुईं समान विचारधारा वाली पार्टियों जैसी ढींढसा और ब्रह्मपुरा गुटों के साथ भी गठबंधन की राह तलाशी जा सकती है.'

बीजेपी को ऑफर क्योंः कैप्टन अमरिंदर के बीजेपी में शामिल होने के कयास थे, हालांकि उन्होंने पहले ही इन कयासों को खारिज कर दिया था. हालांकि, नई पार्टी बनाने के बाद कैप्टन ने बीजेपी के साथ गठबंधन की संभावनाओं की बात कही है. अगर बीजेपी किसान आंदोलन का हल निकालते हैं तो कैप्टन बीजेपी के साथ जा सकते हैं. 

तीसरा ट्वीटः सिद्धू पर हमला

तीसरे ट्वीट में कैप्टन ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) का नाम लिए बगैर हमला बोला. कैप्टन ने लिखा, ''जब तक मैं अपने लोगों और अपने राज्य का भविष्य सुरक्षित नहीं कर लेता, तब तक मैं चैन से नहीं बैठूंगा. पंजाब को राजनीतिक स्थिरता के साथ-साथ आंतरिक और बाहरी खतरों से सुरक्षा की जरूरत है. मैं अपने लोगों से वादा करता हूं कि दांव पर लगी इसकी शांति और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जो कुछ भी करना होगा, वो करूंगा.'

सिद्धू पर हमला क्योंः कैप्टन अमरिंदर सिंह सिद्धू को अक्सर राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताते रहे हैं. कैप्टन ने जब मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया था, तब भी उन्होंने कहा था कि सिद्धू देश के लिए खतरा हैं. कैप्टन के इस ट्वीट को सिद्धू पर हमले के तौर पर ही देखा जा रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें