विश्व

अमेरिकी रिपोर्ट में खुलासा, चीन ने रची थी गलवान हिंसा की साजिश

  • 1/5

जून में गलवान घाटी में चीन के सैनिकों ने रात के अंधेरे में भारतीय सैनिकों पर कायराना हमला किया था जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे. अब इस हमले के बारे में एक अमेरिकी रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चीन सरकार ने गलवान घाटी में हुई खूनी हिंसा की साजिश रची थी.

  • 2/5

दरअसल, यूनाइटेड स्टेट्स चीन इकोनॉमिक एंड सिक्योरिटी रिव्यू कमीशन ने बुधवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा है कि गलवान झड़प एक साजिश थी और इसमें जानलेवा हमले की आशंका भी थी, इस बात के सबूत सामने आए हैं. सैटेलाइट की तस्वीरों से पता चलता है कि झड़प से एक हफ्ते पहले चीन ने इलाके में 1000 सैनिकों को तैनात कर दिया था.

  • 3/5

रिपोर्ट के मुताबिक, इस हमले का मकसद चीन का अपने पड़ोसी देशों के ख‍िलाफ 'जोर-जबरदस्‍ती' अभियान को तेज करना था. रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि बीजिंग ने अपने पड़ोसियों के खिलाफ एक मल्टीलेयर कैम्पेन तेज कर दिया है. इससे जापान, भारत और साउथ ईस्ट एशिया के देशों के साथ उसका तनाव बढ़ा है. चीन के रक्षा मंत्री ने अपने जवानों को युद्ध के लिए उत्‍साहित किया था.

 

  • 4/5

बता दें कि जून 2020 में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी और भारतीय सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हो गई थी. यह घटना लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर लद्दाख की गलवान घाटी में हुई. इसमें भारत के 20 सैनिक शहीद हुए. वहीं, चीन की ओर से घायलों या मरने वाले सैनिकों की संख्या नहीं बताई गई थी.

  • 5/5

भारत और चीन के बीच 1975 के बाद यह पहली बार था कि दोनों पक्षों के बीच झड़प में सैनिकों की जान गई हो. इस इलाके में मई से ही कई सेक्टरों में तनाव बढ़ाने वाली घटनाओं का सिलसिला शुरू हुआ था.

लेटेस्ट फोटो