क्राइम न्यूज़

राजस्थान: दलित नाबालिग से गैंगरेप के आरोपी को जमानत, लड़की ने दे दी जान

नरेश सरनाऊ (बिश्नोई)
  • जालोर ,
  • 20 अगस्त 2021,
  • अपडेटेड 11:30 AM IST
  • 1/8

राजस्थान की गहलोत सरकार में बेटियां महफूज नजर नहीं आ रही हैं. ताजा मामला जालौर जिले के झाब थाना क्षेत्र का है जिसमे में एक गैंगरेप पीड़िता की आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. मृतक पीड़िता दलित और नाबालिग है जिसने अपने ही घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. (प्रतीकात्मक फोटो) 

  • 2/8

दरअसल, मामला जालोर ज‍िले के झाब थाना क्षेत्र का है जहां पीड़िता ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची वही पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे में लेकर सांचोर के राजकीय अस्पताल की मॉर्चुरी में रखवाया है. पुलिस की ओर से मामले की जांच की जा रही है.

  • 3/8

जानकारी के अनुसार, 3 माह पूर्व तीन युवकों ने दलित नाबालिग पीड़िता के साथ गैंगरेप किया था. इसके बाद गैंगरेप के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद एक युवक की 2 दिन पूर्व ही जमानत हो गई थी. ऐसे में मुख्य आरोपी के जमानत हो जाने पर अवसाद में आकर पीड़िता की ओर से आत्महत्या करने की घटना सामने आ रही है. (प्रतीकात्मक फोटो) 

  • 4/8

आपको बता दें कि पीड़िता के साथ गैंगरेप के मामले को लेकर गिरफ्तारी के लिए भी परिजनों की ओर से झाब पुलिस थाने के बाहर धरना भी दिया गया था जिसमें वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम बिश्नोई के पुत्र भूपेंद्र बिश्नोई ने धरने पर बैठकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की थी. (प्रतीकात्मक फोटो) 

  • 5/8

इसके बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. ऐसे में अब मुख्य आरोपी कि 2 दिन पूर्व जमानत हो जाने के बाद पीड़िता ने अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. फिलहाल पुलिस की ओर से पूरे मामले की जांच की जा रही है. (प्रतीकात्मक फोटो) 

  • 6/8

वहीं इस पूरे मामले को लेकर परिजनों सहित समाज के लोगों की राजकीय अस्पताल के बाहर भारी संख्या में भीड़ जुट गई. परिजनों की ओर से तीन अन्य लोगों के विरुद्ध पुलिस को रिपोर्ट दी गई है. मेडिकल बोर्ड से पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द किया गया है. (प्रतीकात्मक फोटो) 

  • 7/8

इस मामले को लेकर डीवाईएसपी वीरेंद्र सिंह ने बताया कि झाब थाना क्षेत्र के जेलातरा एक नाबालिग युवती द्वारा अपने ही घर में फंदा लगाकर आत्महत्या की गई जिसकी सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. परिजनों की ओर से दी गई रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया गया है. परिजनों की ओर से दी गई रिपोर्ट में 2 से 3 लोगों के विरुद्ध नामजद रिपोर्ट दी गई है.  इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच की जा रही है. युवती के साथ 3 माह पूर्व हुए गैंगरेप मामले को लेकर डीवाईएसपी ने बताया कि इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. चालान पेश किया गया है जिसमें एक आरोपी की उच्च न्यायालय से जमानत हो चुकी है. 
 

  • 8/8

इस घटना को लेकर राज्य के वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम बिश्नोई के पुत्र डॉक्टर भूपेंद्र बिश्नोई धरना स्थल पर पहुंचे और घटना को लेकर परिजनों से  जानकारी ली. इसके बाद उन्होंने इस मामले को लेकर कहा कि बेहद दुखद घटना है जिसमें नाबालिग बच्ची द्वारा आत्महत्या की गई. उन्होंने बताया कि 3 माह पूर्व नाबालिग के साथ गैंगरेप की घटना हुई थी जो कि बेहद निंदनीय है. तीन नामजद आरोपी थे जिसमें दो आरोपियों को पुलिस की ओर से गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन एक आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया था. इसके बाद पुलिस थाने के बाहर परिजनों के साथ धरने पर बैठे थे. इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया गया था लेकिन गुरुवार शाम को नाबालिग की ओर से आत्महत्या की गई. यह जांच का विषय है. इसके अलावा परिजनों की ओर से दिए गए ज्ञापन को उपखंड अधिकारी के मार्फत राज्य पर्यावरण मंत्री को भी भेजा गया है. इसके अलावा परिजनों को मुआवजे को लेकर मांग की जा रही थी. इस संबंध में उपखंड अधिकारी की ओर से जिला कलेक्टर से बातचीत की गई है. 2 दिन पूर्व जिस आरोपी की जमानत हुई है, उसके द्वारा अभद्र भाषा का जो प्रयोग किया गया है उसके वीडियो क्लिप्स और ऑडियो पुलिस को दिए गए हैं. इस संबंध में पुलिस की ओर से कार्रवाई की जाएगी.