scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: दुर्घटनाग्रस्त ट्रेनों की पुरानी तस्वीरें बंगाल के हालिया ट्रेन हादसे से जोड़कर वायरल

हमने जांच में पाया कि जहां पहली फोटो साल 2015 में यूपी में हुए एक ट्रेन हादसे की है. वहीं, दूसरी तस्वीर साल 2010 में बंगाल के बीरभूम में हुई एक दुर्घटना की है.

दुर्घटनाग्रस्त ट्रेनों की पुरानी तस्वीरें बंगाल के हालिया ट्रेन हादसे से जोड़कर वायरल दुर्घटनाग्रस्त ट्रेनों की पुरानी तस्वीरें बंगाल के हालिया ट्रेन हादसे से जोड़कर वायरल

पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में 13 जनवरी को हुए ट्रेन हादसे में अब तक नौ लोगों की जान जा चुकी है और करीब 36 लोग जख्मी बताए जा रहे हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि इंजन में खराबी की वजह से बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन के 12 डिब्बे पटरी से उतर गए थे.  

इस हादसे से जोड़ते हुए सोशल मीडिया और वॉट्सएप पर दुर्घटनाग्रस्त ट्रेनों की दो तस्वीरें शेयर की जा रही हैं. इनमें से एक फोटो में ट्रेन के कई डिब्बे पटरी से उतरे हुए दिखाई दे रहे हैं. वहीं, दूसरी फोटो में ट्रेन एक फुटओवर ब्रिज पर चढ़ी हुई है.

इन तस्वीरों को ऐसे पेश किया जा रहा है जैसे ये जलपाईगुड़ी में हुए हालिया ट्रेन हादसे की तस्वीरें हों.

हमने जांच में पाया कि जहां पहली फोटो साल 2015 में यूपी में हुए एक ट्रेन हादसे की है. वहीं, दूसरी तस्वीर साल 2010 में बंगाल के बीरभूम में हुई एक दुर्घटना की है.

यूं पता लगी पहली फोटो की सच्चाई

पहली फोटो को रिवर्स सर्च करने पर ये हमें ‘डेलीमेल’ की एक रिपोर्ट में मिली. यहां दी गई जानकारी के मुताबिक ये फोटो 25 मई 2015 को यूपी के कौशाम्बी में हुई एक ट्रेन दुर्घटना की है. राउरकेला से जम्मूतवी जा रही मुरी एक्सप्रेस ट्रेन के नौ कोच पटरी से उतर गए थे, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई थी और 50 लोग घायल हो गए थे.

‘डेक्केन हेराल्ड’ ने भी 2015 में हुए कौशाम्बी के ट्रेन हादसे से संबंधित अपनी रिपोर्ट में यही तस्वीर लगाई थी.

12 साल पुरानी है दूसरी फोटो

दूसरी फोटो को रिवर्स सर्च करने पर ये हमें ‘एनडीटीवी’ की 19 जुलाई 2010 की एक वीडियो रिपोर्ट में मिली. रिपोर्ट के मुताबिक, ये बीरभूम, पश्चिम बंगाल के सैंथिया स्टेशन पर हुए रेल हादसे की फोटो है. इस हादसे में 50 से अधिक लोग मारे गए थे और 150 से अधिक लोग घायल हुए थे. इस घटना से संबंधित ‘रॉयटर्स’ की फोटो गैलरी में भी इससे मिलती-जुलती तस्वीरें देखी जा सकती हैं.

इस भीषण दुर्घटना के बारे में विस्तार से ‘आजतक’ की इस खबर में पढ़ा जा सकता है.

हाल ही में जलपाईगुड़ी में हुए बीकानेर-गुवाहाटी ट्रेन हादसे की असली तस्वीरें नीचे देखी जा सकती हैं.

 

रेल मंत्रालय ने घोषणा की है कि इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को 5 लाख, गंभीर घायलों को 1 लाख और कम जख्मी यात्रियों को 25 हजार रुपये की मदद दी जाएगी.

साफ तौर पर, रेल दुर्घटना की दो पुरानी तस्वीरों को हालिया बंगाल ट्रेन हादसे से जोड़कर शेयर किया जा रहा है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

ये 13 जनवरी 2022 को बंगाल के जलपाईगुड़ी में हुए ट्रेन हादसे की तस्वीर है.

निष्कर्ष

ये साल 2015 की फोटो है जब राउरकेला से जम्मूतवी जा रही मुरी एक्सप्रेस, यूपी के कौशाम्बी जिले में दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×