बॉर्डर पर माहौल गर्म, पाकिस्तान ने नहीं स्वीकारी भारत की दिवाली मिठाई!

पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन किया गया, जिसके जवाब में भारतीय सेना ने एक्शन लिया. इसी गर्मागर्मी के बीच हर साल की तरह दिवाली पर जो बॉर्डर पर मिठाई एक्सचेंज होती है, वह इस बार नहीं हुई है.

बॉर्डर पर इस बार नहीं बंटी मिठाई!
अभि‍षेक भल्ला
  • नई दिल्ली,
  • 23 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 8:12 AM IST

  • भारत और पाकिस्तान के बीच तनातनी का माहौल
  • दिवाली पर PAK ने नहीं स्वीकारी भारत की मिठाई
  • हाई कमिशन के साथ बॉर्डर पर भी नहीं ली मिठाई

दिवाली के त्योहार से पहले भारत और पाकिस्तान के बीच बॉर्डर पर तनातनी का माहौल है. पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन किया गया, जिसके जवाब में भारतीय सेना ने एक्शन लिया. इसी गर्मागर्मी के बीच हर साल की तरह दिवाली पर जो बॉर्डर पर मिठाई एक्सचेंज होती है, वह इस बार नहीं हुई है.

सूत्रों की मानें तो प्रोटोकोल के तहत हर साल इस्लामाबाद में मौजूद भारतीय हाई कमिशन दिवाली पर सभी अहम दफ्तरों में मिठाई भेजता है. पाकिस्तान की ISI ने पहले प्रोटोकोल का स्वागत करते हुए मिठाई को स्वीकारा लेकिन बाद में उन्हें वापस कर दिया.

बता दें कि ISI पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी है और पाकिस्तान की सत्ता-रणनीति में उसका दबदबा है.

ना सिर्फ इस्लामाबाद में ISI या अन्य अधिकारी बल्कि बॉर्डर पर पाकिस्तानी रेंजर्स ने भी इस बार भारत के द्वारा दी गई मिठाई नहीं स्वीकारी है. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को पंगु किए जाने के बाद से ही दोनों देशों के बीच हालात ठीक नहीं हैं और पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ भड़काऊ काम कर रहा है.

PAK की हरकत का भारत ने दिया जवाब

इसी हफ्ते पाकिस्तान की तरफ से जम्मू-कश्मीर के तंगधार इलाके में सीजफायर का उल्लंघन किया गया, जिसमें जवान और स्थानीय निवासियों को निशाना बनाया गया था. पाकिस्तान की इन्हीं हरकतों का जवाब देते हुए भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) में आतंकी कैंपों पर हमला किया था. भारतीय सेना की इस कार्रवाई में कई आतंकी और पाकिस्तानी सेना के जवान मारे गए थे.

पाकिस्तानी सेना ने विदेशी पत्रकारों को कराया दौरा

भारत के इस एक्शन पर पाकिस्तान लगातार दावे को गलत बताता रहा है. पाकिस्तानी सेना मंगलवार को कुछ विदेशी पत्रकारों और अधिकारियों को नीलम वैली में भी ले गई थी, जहां उन इलाकों का दौरा कराया गया.

इस दौरे के लिए पाकिस्तानी सेना से भारतीय सेना से अपील की थी कि वह इस दौरान बॉर्डर पर कोई कार्रवाई ना करे, जिसे भारतीय सेना ने स्वीकार कर लिया था. हालांकि, मंगलवार दोपहर को पाकिस्तान ने खुद अपने वादे को तोड़ा और सीज़फायर उल्लंघन किया.

Read more!

RECOMMENDED