पलवल: संबंधों में रोड़ा बनी सास, प्रेमी संग बहू ने किया कत्ल, सुलझी गुत्थी

शव पर डीजल छिड़ककर जला दिया गया था और अधजले शव को खंडहर पड़े स्कूल में गड्ढा खोद कर दबा दिया गया था. अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. पुलिस जांच को लेकर गांव वालों ने कई बार प्रदर्शन भी किया. मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

महिला के शव के हत्या के बाद जलाया गया था (फाइल फोटो)
तनसीम हैदर
  • पलवल,
  • 08 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 10:12 AM IST

  • अवैध संबंधों के खुलासे पर बहू ने रची कत्ल की साजिश
  • प्रेमी संग मिलकर की सास की हत्या, प्रेमी गिरफ्तार
  • हत्या के बाद महिला के शव को जलाया
हरियाणा के पलवल में दो महीने पहले एक 60 वर्षीय महिला की हत्या का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है. महिला की हत्या कर उसके अधजले शव को एक स्कूल के खंडहर में दबा दिया गया था. गहन जांच के बाद पुलिस ने मृत महिला की बहू के प्रेमी को गिरफ्तार किया है.

आरोपी बहू अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी को अदालत में सोमवार को पेश किया साथ ही हत्या में प्रयोग हथियार की रिकवरी के लिए उसे रिमांड में लिया है.

आरोपी का नाम नरेंद्र है जिस पर अपनी शादीशुदा प्रेमिका की सास के कत्ल का आरोप है. पुलिस के मुताबिक 11 व 12 अगस्त की रात को पलवल में 60 वर्षीय महिला बिसन देवी की हत्या की गई थी.

मिली अधजली लाश

शव पर डीजल छिड़ककर जला दिया गया था और अधजले शव को खंडहर पड़े स्कूल में गड्ढा खोद कर दबा दिया गया था. अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. पुलिस जांच को लेकर गांव वालों ने कई बार प्रदर्शन भी किया.

इस वजह से हुई हत्या

जांच के दौरान पुलिस ने रविवार को 20 वर्षीय नरेन्द्र को गिरफ्तार किया. पूछताछ के दौरान आरोपी नरेन्द्र ने बताया कि वह (मृतका) बिसन देवी के पुत्र होशियार का अच्छा दोस्त था. होशियार की पत्नी प्रेमवती होशियार पर अवैध संबंधों का शक करती. जिसको लेकर होशियार व उसकी मां बिसन देवी अकसर प्रेमवती से लड़ाई-झगड़ा करते. एक दिन नरेंद्र ने प्रेमवती का पक्ष ले लिया जिसको लेकर प्रेमवती व नरेंद्र के बीच दोस्ती हो गई और दोनों के बीच फोन पर बातें होने लगी. इस दोस्ती का बिसन देवी को पता चल गया जिसका वह विरोध करने लगी.

प्रेमवती व नरेंद्र ने अपनी दोस्ती में रोड़ा बनी बिसन देवी की हत्या करने का प्लान बनाया. 11 अगस्त को दिन में नरेंद्र स्कूटी पर पेट्रोल पंप से पांच लीटर डीजल लाया और प्रेमवती के मकान के पीछे खंडहर बने स्कूल में रख दिया. उसी रात करीब 12 बजे प्रेमवती ने फोन कर नरेंद्र को घर बुलाया. जब वह प्रेमवती के घर पहुंचा तो उसे अंदर कमरे में घुसते हुए बिसन देवी ने देख लिया.

स्कूल में मिली लाश

बिसन देवी भी पीछे से गई और कमरे का दरवाजा खोल दिया तो प्रेमवती व नरेंद्र ने मिलकर बिसन देवी को अंदर खींच लिया और बेड पर गिराकर उसका मुंह व गला दबाकर हत्या कर दी. नरेंद्र व प्रेमवती मिलकर मृतका बिसन देवी के शव को स्कूल में ले गए और डीजल डालकर जला दिया. लेकिन डीजल कम पड़ गया शव पूरी तरह नहीं जला.

जिसके बाद दोनों ने मिलकर गड्ढा खोदकर अधजले शव को दबा दिया. पुलिस ने इस संबंध में अज्ञात खिलाफ मामला दर्ज कर गहन जांच शुरू की तो शक की सुई मृतका की पुत्रवधू पर घूमी. पुलिस ने आरोपी नरेंद्र को पलवल से गिरफ्तार कर सोमवार को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया हुआ है, जिसके कब्जे से वारदात में  प्रयोग स्कूटी, मोबाइल, मृतका के कानों के कुंडल व अन्य सामान को बरामद किया जाएगा.

Read more!

RECOMMENDED