scorecardresearch
 

सनराइजर्स हैदराबाद में वॉर्नर की 'बेइज्जती' से गुस्से में फैन्स, बोले- IPL का 'ब्लैक डे'

डेविड वॉर्नर के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का 14वां सीजन मुश्किल भरा रहा है. उनकी कप्तानी में सनराइजर्स हैदराबाद को 6 में से 5 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. टीम के खराब प्रदर्शन के बाद पहले उनसे कप्तानी छीनी गई और उसके बाद राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में उनको अंतिम ग्यारह में शामिल नहीं किया गया.   

सनराइजर्स हैदराबाद के पूर्व कप्तान डेविड वॉर्नर सनराइजर्स हैदराबाद के पूर्व कप्तान डेविड वॉर्नर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डेविड वॉर्नर के लिए आईपीएल-14 मुश्किल भरा रहा
  • कप्तानी छीनने के बाद वॉर्नर को टीम से किया गया बाहर

डेविड वॉर्नर के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का 14वां सीजन मुश्किल भरा रहा है. उनकी कप्तानी में सनराइजर्स हैदराबाद को 6 में से 5 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. टीम के खराब प्रदर्शन के बाद पहले उनसे कप्तानी छीनी गई और उसके बाद राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में उनको अंतिम ग्यारह में शामिल नहीं किया गया.   

इस मुकाबले में वॉर्नर टीम के साथी खिलाड़ियों के लिए ड्रिंक्स लेकर मैदान पर उतरते देखे गए. हालांकि वॉर्नर को ड्रिंक्स के लिए मैदान के अंदर भेजना टीम की रणनीति का हिस्सा हो सकता है. वॉर्नर सीनियर खिलाड़ी हैं और कप्तान केन विलियमसन को वह अपना इनपुट देते रहे होंगे. उधर, वॉर्नर के साथ हो रहे इस बर्ताव पर फैन्स नाराज हैं. उन्होंने इसे आईपीएल का 'ब्लैक डे' करार दिया. 

'स्तब्ध और निराश हैं वॉर्नर'

सनराइजर्स हैदराबाद के क्रिकेट निदेशक टॉम मूडी ने कहा कि टीम की अंतिम एकादश से बाहर किए जाने से डेविड वॉर्नर ‘स्तब्ध और निराश’ हैं, लेकिन इस कड़े फैसले का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि किसी को तो बाहर करना था और यह वह थे. वॉर्नर के आईपीएल करियर में यह पहला मौका है, जब खराब फॉर्म के कारण किसी फ्रेंचाइजी ने उन्हें टीम से बाहर किया है.

मूडी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच से पहले स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘हमें कड़ा फैसला करना था, किसी को टीम से बाहर होना था और दुर्भाग्य से यह वह था. वह स्तब्ध और निराश हैं, कोई भी निराश होगा.’


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें