scorecardresearch
 
साइंस न्यूज़

असंभव घटना...बिना शारीरिक संबंध के सदियों तक जीवित रह सकता है ये जीव

animal survived without sex
  • 1/8

इस तस्वीर में दिख रहा ये जीव एक मिलीमीटर के पांचवें हिस्से के बराबर है. यह धरती पर मौजूद कुछ ऐसे जीवों में से एक है जो संभवतः बिना शारीरिक संबंध बनाए सदियों तक जीवित रह सकते हैं. विज्ञान की भाषा में ऐसे जीवों को अलैंगिक (Asexual) कहते हैं. यह असल में एक बीटल घुन (Beetle Mite) है, इसे ओपिएला नोवा (Oppiella Nova) कहते हैं. वैज्ञानिकों ने अपनी स्टडी में पाया कि इस जीव के साथ प्रकृति ने बेहद प्राचीन अलैंगिक घोटाला (Ancient Asexual Scandal) किया है. आइए जानते हैं इस जीव की अनोखी कहानी... (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 2/8

ओपिएला नोवा (Oppiella Nova) बीटल घुन के साथ प्रकृति ने एक बड़ा खिलवाड़ किया है. इस जीव की प्रजाति में नर होता ही नहीं है. सिर्फ मादाएं होती हैं. इसीलिए वैज्ञनिकों ने इसे प्राचीन अलैंगिक घोटाले (Ancient Asexual Scandal) का नाम दिया है. वैज्ञानिक यह पता ही नहीं कर पा रहे हैं कि यह जीव बिना संभोग (Intercourse) किए प्रजनन कैसे करता है. जब इसकी वजह पता नहीं चली तो वैज्ञानिकों ने मान लिया कि यह प्रजाति कुछ ऐसा छिपा रही है जिसे साइंटिस्ट खोज नहीं पा रहे हैं. (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 3/8

इस जीव पर स्टडी करने वाले वैज्ञानिक डॉ. एलेक्जेंडर ब्रैंट ने कहा कि यह किसी खास प्रकार का गुप्त सेक्सुअल संबंध है, जिसके बारे में हम पता नहीं कर पा रहे हैं. डॉ. एलेक्जेंडर ब्रैंट ने कहा कि यह बेहद दुर्लभ स्थिति है कि बगैर नर जीव के साथ संभोग किए कोई मादा नया जीव पैदा कर दे. यह किसी न किसी माध्यम से होना ही चाहिए अगर सीधे तौर पर नहीं होता है तो. जैसे नर का वीर्य मादा के अंडकोष तक कई बार हवा या पानी या अन्य कीट-पतंगों के जरिए पहुंच जाता है. (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 4/8

ओपिएला नोवा (Oppiella Nova) बीटल घुन इतना छोटा है कि उसके शरीर के अंदर कुछ ऐसा पहुंचा पाना एक बेहद कठिन कार्य है. क्योंकि बिना शारीरिक संबंध बनाए किसी जीव का लंबे समय तक जीवित रहना, अंसभव है. कम से कम अब तक जितनी भी खोज हुई हैं, या वैज्ञानिक स्टडीज हुई हैं, उनके अनुसार तो ऐसा कोई जीव मिला ही नहीं जो बिना शारीरिक संबंध बनाए सदियों तक जीवित रह सके. (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 5/8

यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोन एंड गॉटिंजेन के वैज्ञानिकों ने यह स्टडी की है. जिसमें डॉ. एलेक्जेंडर ब्रैंट भी शामिल हैं. इस टीम का कहना है कि ओपिएला नोवा (Oppiella Nova) बीटल घुन बिना शारीरिक संबंध बनाए हजारों साल या संभवतः लाखों साल तक जीवित रह सकता है. यह एक बहुत बड़ी पहेली है. सामान्य तौर पर सतत विकास यानी इवोल्यूशन की जो प्रक्रिया है उसमें दो पैरेंट्स यानी नर-मादा का होना फायदेमंद होता है. क्योंकि उसमें क्रोमोसोम्स के दो जोड़े शामिल होते हैं. इस प्रक्रिया में इंसान भी शामिल हैं. जेनेटिक्स का मिलना जीवों की विभिन्नता को दर्शाता है. इस विभिन्नता की परंपरा को आगे बढ़ाता है. क्रोमोसोम्स जैविक वस्तु है लेकिन उससे ज्यादा वो जेनेटिक सूचना है, जो धरती पर प्रजातियों में अंतर पैदा करती है. (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 6/8

लेकिन, क्रोमोसोम्स का मिलना अलैंगिक जीवों (Asexual Animals) में नहीं होता. असल में ये खुद का क्लोन (Clone) बनाते हैं. अब आप सोचेंगे कि क्लोनिंग में तो उनके जैसा ही जीव बनता होगा. लेकिन हैरानी की बात ये है कि इस क्लोनिंग की प्रक्रिया में ओपिएला नोवा (Oppiella Nova) बीटल घुन जेनेटिक वैरिएशन यानी अपने क्लोन के जीन्स में बदलाव भी ले आता है. इस वजह से वैज्ञानिक और परेशान हैं कि आखिरकार यह जीव ऐसा करता कैसे है. साथ ही अलग-अलग पर्यावरण के मुताबिक यह खुद को ढाल भी लेता है. ये बात भी साइंटिस्ट्स की टीम को हैरान कर रही है. (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 7/8

जेनेटिक सूचना के दो जोड़े यानी क्रोमोसोम्स के दो जोड़े अलग-अलग जुड़ते हैं. अलग-अलग तरह से म्यूटेशन करते हैं. यहां पर म्यूटेशन सकारात्मक होता है. ये नुकसान नहीं करता. इस प्रक्रिया को मेसेलॉन इफेक्ट (Meselon Effect) कहते हैं. यह प्रक्रिया आमतौर पर अलैंगिक जीवों में पाई जाती है. यूनिवर्सिटी ऑफ लाऊसेन में डिपार्टमेंट ऑफ इकोलॉजी एंड इवोल्यूशन के प्रोफेसर तान्जा श्वैंडर ने कहा कि हो सकता है कि आपको यह बात बेहद साधारण लग रही है, लेकिन प्रैक्टिकली यह बेहद जटिल है. मेसेलॉन इफेक्ट जानवरों में देखने को कम मिलता है. (फोटोः अन्ना सेनीजैक/बर्जेन यूनिवर्सिटी)

animal survived without sex
  • 8/8

प्रो. तान्जा श्वैंडर ने कहा कि बिना संभोग किए प्रजनन करने वाले जीवों का हजारों या लाखों सालों तक जीवित रहना बेहद मुश्किल होता है. क्योंकि शारीरिक संबंध नहीं बनाने से शरीर में कई प्रकार की बीमारियां होने लगती है. मानसिक व्याधियां पैदा होती हैं अगर उस जीव के पास दिमाग है तो. लेकिन ओपिएला नोवा (Oppiella Nova) बीटल घुन को देखकर लगता है कि इसके पास वैज्ञानिकों के लिए कई रहस्य छिपे हुए हैं. जिनकी खोज करना बाकी है. हम इसका गहन अध्ययन कर रहे हैं ताकि यह पता कर सकें कि बिना सेक्स किए सतत विकास की प्रक्रिया कैसे हो सकती है. (फोटोः मार्क मरोन/जर्मनी यूनिवर्सिटी)