अहमदाबाद हादसा: PM मोदी ने की CM और मेयर से बात, मुआवजे का भी ऐलान

गुजरात के अहमदाबाद में गुरुवार तड़के एक कोरोना अस्पताल में आग लग गई. इस हादसे में आठ कोरोना मरीजों की मौत हो गई. इस हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद गुजरात के सीएम विजय रुपाणी से बात की है.

श्रेय हॉस्पिटल के बाहर मौजूद भीड़
गोपी घांघर
  • अहमदाबाद,
  • 06 अगस्त 2020,
  • अपडेटेड 9:01 AM IST

  • श्रेय हॉस्पिटल में लगी आग, 8 की मौत
  • PM मोदी ने CM और मेयर से की बात

गुजरात के अहमदाबाद में गुरुवार तड़के एक कोरोना अस्पताल में आग लग गई. इस हादसे में आठ कोरोना मरीजों की मौत हो गई, जबकि एक मेडिकल स्टाफ घायल हो गया. इस हादसे ने राज्य सरकार से लेकर मोदी सरकार तक हलचल बढ़ा दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद गुजरात के सीएम विजय रुपाणी से बात की है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अहमदाबाद के अस्पताल में आग लगने से दुखी हूं. शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी संवेदना. घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना. मैंने सीएम विजय रुपाणी और मेयर बिजल पटेल से बात की और स्थिति के बारे में जानकारी ली. प्रशासन प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है.

सीएम विजय रुपाणी और अहमदाबाद की मेयर बिजल पटेल से बात करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुआवजे का ऐलान भी कर दिया है. प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत फंड (पीएमएनआरएफ) से मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50 हजारों की मदद की जाएगी.

गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक, सीएम विजय रूपाणी ने अहमदाबाद के श्रेय अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच के आदेश दिए हैं. संगीता सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह विभाग) जांच का नेतृत्व करेंगी. सीएम ने 3 दिनों के भीतर रिपोर्ट देने का आदेश दिया है.

क्या है पूरा मामला

अहमदाबाद स्थित श्रेय अस्पताल में गुरुवार तड़के आग लग गई. श्रेय अस्पातल को कोरोना के लिए डेडिकेड किया गया है. आग सुबह 3 बजकर 15 मिनट पर लगी. 3 बजकर 22 मिनट पर दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची. दमकल की टीम ने 4 बजकर 20 मिनट पर आग पर काबू पाया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

आग जब लगी उस समय आईसीयू में 10 कोरोना मरीज थे, जबकि पूरे हॉस्पिटल में 49 कोरोना मरीज थे. इसमें से आठ लोगों की मौत हो गई है. मरने वालों में अरविंद भावसार, नवीनलाल शाह, लीलावती शाह, आयशाबेन तिरमीश, मनुभाई रामी, ज्योति सिंधी, नरेंद्र शाह और आरिफ मंसूर शामिल है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

जान गंवाने वाले इन आठ लोगों का श्रेय अस्पताल में इलाज चल रहा था. फिलहाल, बाकी मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है. साथ ही जांच के लिए फॉरेंसिक विभाग की टीम पहुंच गई है. इसके साथ ही स्थानीय प्रशासन और पुलिस विभाग की टीम भी श्रेय अस्पताल पहुंच गई है. आग लगने के पीछे की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है.

Read more!

RECOMMENDED